Breaking News


फिर टूटने के कगार पर नहर रजवाहा, बढ़ता जा रहा पानी का रिसाव


रतसर (बलिया): विकास खण्ड गड़वार क्षेत्र के रतसर - सुखपुरा नहर मार्ग पर जनऊपुर के समीप स्थित अंबेडकर संस्थान के सामने नहर का किनारा पूरी तरह जर्जर होने के कारण  यह कभी भी टूट सकता है। पूर्व में 3अगस्त 2018 और 12जूलाई 2019 को यह किनारा टूट चूका है। जिससे सैकड़ों किसानों की फसल पानी में डूबने से बर्बाद हो चूकी है।

 इस वर्ष भी माइनर में जलापूर्ति होते ही उसी स्थान पर कटाव शुरू हो गया है। इसको लेकर संबंधित किसान चिंतित है।क्षेत्र के किसान करीमन राम,रवींद्र राम, मु०नागेंद्र राम,सुनील कुमार,मुन्नीनाथ गोंड़ ने बताया कि बीते दो साल से इसी स्थान पर नहर के तीन से चार मीटर की चौड़ाई में टूटने से किसानों की सैकड़ों एकड़ फसल बर्बाद हो चूकी है। नहर विभाग को इसकी सूचना देने पर उस स्थान पर हर साल केवल मिट्टी भरी बोरी एवं झाड़ झंखाड़ फेक कर किसी तरह से कोरम पूरा कर दिया जाता है। 

इस वर्ष जून माह में बेहन डालने के लिए नहर विभाग द्वारा माइनर में पानी छोड़ते ही फिर कटान शुरू हो गया और धीरे-धीरे पानी का रिसाव होना चालू हो गया है। नहर विभाग अगर इस कटान बिंदू पर ध्यान नही देता है तो एक-दो दिन में नहर टूट जाएगी। उन्होंने सिंचाई विभाग के उच्चाधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कटान स्थल पर पटरी बनवाने की मांग की है।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments