Breaking News

Akhand Bharat

विशेषज्ञों से सनबीम के सितारों ने सीखा कैरियर चमकने का मंत्र




बलिया। विद्यार्थी का जीवन गीली मिट्टी के समान होता है, जिसे पथप्रदर्शक स्वरूप शिल्पकार अपने अनुभवों एवं ज्ञान के आधार पर एक सुंदर मूर्ति में परिवर्तित करता है। ऐसा ही कार्य बलिया जिले के अगरसंडा ग्राम स्थित सनबीम स्कूल में अपने विद्यार्थियों के लिए किया जा रहा है। विद्यालय सदैव ही अपने विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास हेतु सजग रहता है एवम हर संभव प्रयास भी करता है जिससे उसके विद्यार्थियों का भविष्य उज्जवल हो सके। इसी क्रम में विद्यालय में देश के सर्वश्रेष्ठ कैरियर विशेषज्ञों की सहायता से विद्यार्थियों को उनके कर्मपथ में सही मार्गदर्शन देने का कार्य किया जा रहा है।

 बता दें कि  विद्यालय में कक्षा 10 वी और कक्षा 12वी के छात्र छात्राओं को उज्जवल भविष्य निर्माण हेतु सही विषय चुनने एवं बारहवीं के पश्चात सही कैरियर हेतु कॉलेज एवं विश्वविद्यालय एवं विभिन्न कोर्सेस चयन में सहायता एवं मार्गदर्शन हेतु देश के सर्वश्रेष्ठ *कैरियर काउंसलिंग संस्था माइंडलर के सर्वोत्तम करियर विशेषज्ञों के साथ  तीन दिवसीय कैरियर काउंसलिंग प्रोग्राम*  का आयोजन किया गया है। जिसमे देश के  विशिष्ट करियर विशेषज्ञों क्रमशः तूलिका चटर्जी, सना जमाल, वल्लारी शांडिल्य, शगुन सिन्हा, नित्या त्यागी, रविंदर कौर रुपराई,युश्रा नोमानी,अंकित गुप्ता, चन्दना आदि शामिल है।ये सभी विशेषज्ञ अपने कार्यक्षेत्र में अत्यंत अनुभवी हैं तथा इनके द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विशेषज्ञता प्राप्त की गई है।

 इनके द्वारा विद्यार्थियों की काउंसलिंग के दौरान छात्र विशेष की मनोदशा, रुचि, बौद्धिक क्षमता का परीक्षण विभिन्न प्रकार की बौद्धिक एवं तार्किक क्रियाकलापों द्वारा किया जाता है।इस पूरी प्रक्रिया के दौरान कैरियर विशेषज्ञ विद्यार्थी के व्यक्तित्व,योग्यता, बुद्धिमता,अभिक्षमता (एप्टीट्यूड) का परिक्षण करते है तथा इसमें प्राप्त अंकों के आधार पर उन्हें भविष्य में सही विकल्प चुनने हेतु पथ प्रदर्शित करते हैं।

 इस विषय में विद्यालय के निदेशक डॉ कुंवर अरूण सिंह ने बताया कि हमारा उद्देश्य ही है विद्यार्थियों को उनके सफल जीवन की ओर अग्रसर करना। अक्सर कक्षा 10 वी के बाद बच्चे सही विषय चुनने एवं बारहवीं के बाद सही कैरियर विकल्प चुनने हेतु चिंतित रहते है तथा अधिकांश बच्चे सही दिशा निर्देश न मिल पाने के कारण अपनी योग्यता को पहचानने में असमर्थ रहते है। 


इसी बात को ध्यान में रखते हुए विद्यालय ने  *माइंडलर जो कि राष्ट्रीय स्तर पर एक ऐसी संस्था है जो बच्चों के भविष्य निर्माण में अपने पूरे एवं सफल योगदान के लिए प्रसिद्ध है* के साथ मिलकर अपने विद्यार्थियों के सफल भविष्य हेतु इस कार्यक्रम का आयोजन किया है।

 

इस प्रकार की काउंसलिंग के विषय में विस्तार से बताते हुए श्री सिंह ने कहा कि *यह संस्था पूरे देश में लगभग 250 से अधिक विद्यालय  तथा 50 से अधिक विश्वविद्यालय के साथ मिलकर  विद्यार्थियों के लिए विभिन्न इंटर्नशिप, करियर सेशन्स, वर्कशॉप , साइकोमेटिक टेस्ट आदि द्वारा  करियर चयन एवं योजना बनाने में सहायता करती है। यह संस्था विद्यार्थियों के उच्च स्तरीय शिक्षण हेतु स्कॉलरशिप भी आयोजित करती है जिसके अंतर्गत बच्चे विदेश की नामी विश्वविद्यालयों से शिक्षा प्राप्त कर सके।


प्रधानाचार्या डॉ अर्पिता सिंह ने इस कार्यक्रम को पूर्णरूप से विद्यार्थियों को समर्पित करते हुए कहा कि विद्यालय अपने विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य के लिए हर कदम पर खड़ा है तथा उन्हें सफलता के उच्चतम स्तर पर ले जाने हेतु सदैव कृतसंकल्प रहेगा।




By: Dhiraj Singh 

No comments