Breaking News

> > >

बलिया के इस विद्यालय के बच्चों ने लिया इको फ्रेंडली दीपावली मनाने का संकल्प

 




रतसर (बलिया):प्रकाश का पर्व दीपावली का मूल स्वरूप समय के साथ-साथ बदलता जा रहा है। त्योहार के इस बदलते स्वरूप के कारण देश के बच्चे पर्व की मूल भावना से दूर जा रहे है। बच्चों को पर्व का मूल उद्देश्य समझाने के लिए गुरुवार को डीएस मेमोरियल गर्ल्स डिग्री कालेज में छात्राओ को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आने वाले त्योहारों को सामाजिक सौहार्द के साथ मनाने का संकल्प लिया गया। साथ ही साथ दीपावली में प्रदूषण को दूर करने तथा वातावरण को शुद्ध रखने हेतु पटाखे न जलाने की शपथ ली गई। अपने प्रधानमन्त्री के विचार "लोकल फार वोकल' के तहत दीपावली में इस बार चाइनीज झालरों की जगह मिट्टी से बने दिए जलाकर दीपोत्सव मनाने का निर्णय लिया गया। 


इस अवसर पर ग्रुप आफ डी.एस.के उप प्रबन्धक डा० प्रवीण सिंह ने विद्यालय के छात्राओं को दीपावली का महत्व समझाते हुए बताया कि दीपावली पर हम अपने घरों को झालरों से रौशन करते है जिससे बिजली की बर्बादी होती है। इस बार दीपावली पर पटाखे न फोड़ने, घर की बनी मिठाई खाने और इलेक्ट्रानिक झालरों की जगह मिट्टी के बने दीप जलाकर ईकों फ्रेंडली दीपावली मनाने का बच्चों को आह्वान किया। इस अवसर पर गर्ल्स डिग्री कालेज के प्रभारी प्राचार्य, गर्ल्स इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य श्री पंचानन्द तिवारी सहित विद्यालय के समस्त अध्यापक एवं अध्यापिकाएं मौजूद रही।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments