Breaking News

> > >

फार्माशिष्ठ और वार्ड ब्याय के सहारे चल रहा बलिया का यह अस्पताल


रेवती (बलिया) :कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को देखते हुए अब सरकार भी आयुर्वेद औषधियों व जड़ी बूटी के काढ़ा के इस्तेमाल पर जोर दे रही है । नगर में कार्यरत आयुर्वेदिक चिकित्सालय विगत एक दशक से फार्माशिष्ठ व वार्ड ब्याय के सहारे चल रहा है । उक्त चिकित्सालय विगत कई दशक से किरायें के भवन में संचालित था । सन 2014 से रेवती सहतवार मार्ग पर पावर हाउस के सामने नये भवन में शिफ्ट हो गया है ।

 इस समय डाॅ सुरेद्र उपाध्याय फार्माशिष्ठ व मनोज कुमार शर्मा वार्ड ब्याय के रूप में कार्य देख रहे हैं । इसमें मनोज शर्मा की ड्यूटी कोविड -19 कोरंनटाईन सेंटर शान्ति हॉस्पिटल बलिया में शुक्रवार से लग गई है । जिससे सारा कार्य फार्माशिष्ठ को अकेले देखना पड़ रहा है। 
प्रति दिन दो दर्जन से अधिक मरीज ओ पी डी में दवा व उपचार के लिए आते हैं ।

 मुख्य सड़क मार्ग से अस्पताल अस्पताल में आने जाने का रास्ता नहीं है। दो तरफ से चहारदिवारी व दो तरफ से खुला मैदान है जिसे कटीले तार से घेरा गया है । अस्पताल के रख रखाव व मरम्मत के लिए जनपद मुख्यालय से टेण्डर हुआ था । ठेकेदार द्वारा आधा अधूरा कार्य करने के बाद काम बंद कर दिया गया है । छत की सफाई व खिड़कियों में फाईवर का दरवाजा का कार्य अधूरा रह गया है । इस समय विभिन्न संचारी रोगों से सम्बंधित दवा अस्पताल में प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है।

रिपोर्ट पुनीत केशरी

No comments