Breaking News

विद्युतकर्मियों के कार्य बहिष्कार से विद्युत आपूर्ति बाधित



विद्युत सप्लाई बाधित होने से परेशान हुए लोग

रतसर (बलिया) निजीकरण के विरोध में विद्युत विभाग ने सोमवार से घोषित कार्य बहिष्कार के कारण जनपद भर में विद्युत आपूर्ति पूरी तरह से बेपटरी हो गई। क्षेत्र के विद्युत उपकेंद्रों पर शासन ने भले ही बिना प्रशिक्षण तैनात लेखपाल की तैनाती कर दी हो लेकिन वह पूरी तरह से असहाय बने  हुए हैं। वहीं तैनात विद्युत विभाग  के जेई ने भी उपकेंद्र पर अपने कार्य से दूरी बनाएं रखा। इधर पूरे दिन क्षेत्र की बिजली आपूर्ति  बंद  रही । जिसके कारण लोग बिजली बिन बिलबिलाते रहे। क्षेत्र के रतसर विद्युत उपकेंद्र पर लेखपाल अतिश कुमार व कानुनगो रामदेव यादव की तैनाती की गई। जबकि यहां जेई मनोज कुमार तैनात है किंतु ये भी विभागीय आंदोलन के कारण कार्यालय से नदारद रहे  और सभी विद्युत कर्मियों की मोबाइल भी स्वीच आफ ही रहा। जहां सुबह से ही चौकी प्रभारी रामअवध भी मौजूद रहे।  लेखपाल व कानुनगो तो समय पर उपकेंद्र पहुंच तो गए परंतु तकनीकी जानकारी के बिना मूकदर्शक बने रहे। वही इस विद्युत उपकेन्द्र की एक और समस्या यह है कि कतिपय कारणों से प्रशासन एवं विद्युत विभाग के बीच वार्ता से हड़ताल समाप्त भी हो जाता है तो इस उपकेन्द्र पर विद्युत आपूर्ति नहीं चालू हो पाएगी क्योंकि सोमवार की सुबह से ही 33 हजार एचटी लाइन में फाल्ट है और समाचार लिखे जाने तक फाल्ट का पता नही लग सका है। करमौता से रतसर के बीच रात में फाल्ट खोज कर बनाना विद्युत विभाग के लिए टेढ़ी खीर के समान है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments