Breaking News

Akhand Bharat

चुनौतियों का सामना करने वाले ही पाते हैं लक्ष्य : डॉक्टर राजेश्वर




दुबहर, बलिया : क्षेत्र के शहीद मंगल पांडेय राजकीय महिला महाविद्यालय में रोवर्स - रेंजर्स के पांच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का समापन विभिन्न कार्यक्रमों के साथ संपन्न हुआ। 

शिविर के अंतिम दिन तंबू निर्माण, पुल निर्माण, भोजन बनाना, कैंप फायर, प्राथमिक चिकित्सा, समूह गान, नृत्य ,लघु नाटक,आदि के बारे में उपस्थित छात्राओं को बतलाया गया। 

कार्यक्रम की शुरुआत कालेज के प्राचार्य डॉक्टर राजेश्वर ने ध्वजारोहण करके किया। 

इस दौरान उन्होंने कहा कि युवा अगर लक्ष्य बनाकर अपने जीवन में आगे बढ़े तो किसी भी मंजिल को पा सकते हैं। कहा कि युवाओं के अंदर असीमित ऊर्जा होती है, जिसका उपयोग युवाओं को राष्ट्र के नवनिर्माण में लगाने की आवश्यकता है। जो युवा चुनौती का सामना करते हैं वही आगे बढ़ते हैं। 

डॉक्टर शिवेंद्र नाथ दुबे  ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से युवाओं के अंदर आत्मविश्वास की बढ़ोतरी होती है।  कहा कि रोवर्स - रेंजर्स युवाओं में सकारात्मक ऊर्जा का विकास करती है। कहा कि रोवर्स रेंजर्स देश की विकास में सार्थक सिद्ध हो सकते हैं। इनका जिस तरह से प्रशिक्षण दिया जाता है। उस प्रशिक्षण से सीख लेकर यह देश की सेवा में अग्रसर एवं महती भूमिका निभा सकते हैं। रोवर्स रेंजर्स अनुशासित रहते हुए शिविर में हुए कार्यों को भली भाति अपने जीवन में उतारे।

इस मौके पर प्रमुख रूप से प्रशिक्षक अभिजीत तिवारी ,सांची दुबे,लाली ठाकुर ,सुप्रिया ,जागृति ,जूही सिंह, रिचा पाठक ,निशा पाठक ,मानवी,नंदनी ,नेहा, दीक्षा, पूजा पांडे ,माला सिंह ,नीरज कुमार आदि लोग मौजूद रहे।


रिपोर्ट:-नितेश पाठक

No comments