Breaking News

बिजली चेकिंग के दौरान उपभोक्ता को बिजली विभाग के जेई व कर्मचारियों द्वारा पिटाई के बाद मौत

 


मनियर, बलिया। बिजली चोरी की जाँच करने दलबल के साथ क्षेत्र के रीगवन मे शुक्रवार के दिन पहुँचे जेई मनियर के सामने विवाद के दौरान  ही उपभोक्ता की मौत होने का मामला प्रकाश मे आया है मौत होते ही टीम फरार हो गयी । परीजन हास्पीटल लाये जहा डाक्टर ने मृत्यु घोषित कर दिया परीजन शव लेकर थाने पहुचे व जेई सहित टीम पर मुकदमा करने का हंगामा करने लगे जेई सहित टीम पर लिखीत तहरीर पुलिस को दी हमामा देख कई थानो की फोर्स जुट गयी सुचना के बाद पहुचे एसडीएम बासडीह ने समझा बुझाकर करवाई का अश्वासन दिया व मामला शान्त कराया ।

 पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पीएम के लिए भेज दिया । बिजली विभाग के जेई कैलाश राव अपने दल बल पुलिस टीम के साथ मनियर थाना क्षेत्र के रिगवन गांव में चोरी की बिजली चेकिंग करने गए थे ।चेकिंग के दौरान बिजली विभाग के लोग रामप्रवेश प्रसाद 35 वर्ष पुत्र मुद्रिका गोंड़ निवासी रिगवन थाना मनियर  जनपद बलिया को पकड़ लिए ।घरवालों का आरोप है कि रामप्रवेश प्रसाद को बिजली विभाग के लोगों ने मारा पीटा जिससे रामप्रवेश प्रसाद  जमीन पर गिर पड़ा।उसके जमीन पर गिरने के बाद बिजली विभाग के लोग भाग खड़े हुए। परिजन किसी तरह से उठा करके उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनियर ले गए जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसके बाद गांव के लोग आग बबूला हो गए। काफी संख्या में मनियर थाने पर भीड़ एकत्रित हो गई। व जमकर बवाल काटा  बिजली विभाग के विरुद्ध कार्यवाही किए जाने की मांग करने लगे। परीजनो की मागं थी की पहले मुकदमा उसके बाद पीएम कराया  लेकिन पुलिस चाह रही थी कि पहले पीएम बाद मे मुकदमा कायम हो बाद मे अधिकारीयो ने मुकदमा कायम करने का भरोषा दिया लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत किया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।बिजली विभाग के द्वारा बिजली चेकिंग के नाम पर आए दिन रौब  जमाए जाने को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। मृतक तीन भाई  था उसकी पत्नी इंद्रावती देवी का रो रो कर बुरा हाल है ।एक पुत्र नीतीश कुमार कक्षा आठवीं का छात्र है। जिसकी उम्र 15 वर्ष है। दो लड़की कुमारी लक्की 19वर्ष एवं कुमारी निधि 17 वर्ष की है। मृतक के पिता मुद्रिका प्रसाद पुत्र शिव लोचन गोंड के तरफ से मनियर थाने पर  तहरीर दिया गया है कि प्रार्थी अनुसूचित जनजाति का व्यक्ति है ।विद्युत कनेक्शन लेकर आटा चक्की चलाता है ।बिजली विभाग के जे ई कैलाश राव एवं रंजीत वर्मा तीन चार लोगों के साथ  मेरेे दुकान पर पहुंचे जिनमें दो पुलिसकर्मी भी थे जिनका नाम अज्ञात है ।मेरी दुकान पर विद्युत कनेक्शन का कागजात देखे एवं बीस हजार रुपए की मांग करने लगे। नहीं देने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने एवं विद्युत कनेक्शन काटे जाने की धमकी देने लगे। मां बहन की भद्दी भद्दी गाली देने लगे एवं  मारने पीटने लगे ।जिससे मेरे लड़के की गिरकर मौत हो गई। इस सम्बन्ध मे एसडीओ बाँसडीह राजकुमार यादव ने बताया कि  विजली चेकिगं के लिए टीम गयी थी परीजनो काआरोप गलत है  उपभोक्ता का दील का दौरा पडने से मौत हो गयी । सुचना के बाद मौके पर उप जिलाधिकारी दुष्यंत कुमार मौर्य भी थाने पर पहुंचे।


एफआईआर लिखे जाने के लिए होती रही  तकझक 

मनियर, बलिया। मनियर थाने पर पीड़ित पक्ष नेताओं एवं प्रशासन के बीच एफआईआर लिखे जाने के लिए तक झक होती रही। उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्या, नवागत सीओ बांसडीह अशोक कुमार त्रिपाठी, थानाध्यक्ष मनियर शैलेश सिंह, थाना अध्यक्ष सिकंदरपुर विपिन सिंह मौके पर मौजूद रहे। पब्लिक का कहना था कि एफआईआर दर्ज हो उसके बाद पोस्टमार्टम हो वही परिजनों एवं उपस्थित लोगों का कहना है कि पहले एफआईआर दर्ज हो उसके बाद पोस्टमार्टम के लिए शव जाएगा। मौके पर पूर्व विधायक भगवान पाठक, सपा नेता संकल्प सिंह, जिला पंचायत प्रत्याशी विजय यादव, जेपी यादव, रविंद्र सिंह,पूर्व प्रधान देवेंद्र यादव, टुनटुन सिंह सभासद कंचन सिंह, धर्मेंद्र मणिक, विद्या पांडे, लड्डू पाठक, दिलीप मिश्र सहित इत्यादि लोग मौजूद रहे। करीब 5:00 बजे तक शव थाने पर ही रखा गया है।

 मनियर थाने पर पीड़ित पक्ष नेताओं एवं प्रशासन के बीच एफआईआर  लिखे जाने के लिए करीब तीन घंटे तक झक होती रही। उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्या, नवागत सीओ बांसडीह अशोक कुमार त्रिपाठी, थानाध्यक्ष मनियर शैलेश सिंह, थाना अध्यक्ष सिकंदरपुर विपिन सिंह मौके पर पहुंच लोगों को समझाने में लगे रहे। परिजनों व ग्रामीणों का कहना था कि एफआईआर दर्ज हो उसके बाद पोस्टमार्टम हो।



राममिलन तिवारी

No comments