Breaking News

नामांकन पत्रों की बिक्री में हो रही धन उगाही थमने का नहीं ले रहा नाम

 


मनियर, बलिया । त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए नामांकन पत्रों की  बिक्री में हो रही धन उगाही का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रत्याशियों के नामांकन पत्रों पर निर्धारित शुल्क से अधिक पैसे की वसूली की  शिकायत के बाद भी चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों से अधिक रूपए की वसूली का विरोध होने के बाद भी अधिक पैसे लेने की मामला प्रकाश में आया है। 

एक तरफ शासन की मंशा है कि आरक्षण के दायरे में आने वाले प्रत्याशियों को नामांकन पत्रों की निर्धारित शुल्क में छूट दी जाय। ताकी प्रत्याशी कम शुल्क देकर चुनाव लड सके लेकिन विकास खण्ड मनियर में नामांकन पत्रों की बिक्री के लिए लगाएं गए काउंटर पर छूट नही दी जा रही है । लोगों को भी निर्धारित शुल्क से अधिक धन उगाही कर नामांकन पत्र दिया जा रहा है। बड़सरी जागीर निवासी बीडीसी प्रत्याशी के नामांकन पत्र की खरीदारी करने आए मनमोहन प्रजापति ने बताया कि मैं अपनी मां उर्मीला देवी के नामांकन पत्र खरीदने गया तो मुझसे 220 रूपए लिए गए। बड़सरी निवासी संदीप कुमार राजभर ने बीडीसी महिला प्रत्याशी आशा देवी के नामांकन पत्र में 200  सौ रुपए लिए गए। वही ताहिरपुर सुल्तान  पुर  निवासी अमरनाथ चौहान ने बीडीसी प्रत्याशी के नामांकन पत्र के लिए 220 रूपए दिए। रिगवन मठिया निवासी महिला अनिता देवी के प्रधान पद के लिए नामांकन पत्र के लिए 2 सौ रुपए लिए गए। गंगापुर निवासी बीडीसी नामांकन पत्र खरीदने गए अवधेश तिवारी से 350 रूपए लिए गए। 

नामांकन पत्र खरीददारों की मानें तो प्रत्येक नामांकन पत्रों में शूल्क बढ़ाकर लिया जा रहा है। जो शिकायत के बाद भी अधिकारीयों के कान में जूं नहीं रेंगती है।

इस संबंध में उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य ने बताया कि ऐसी मामले की जानकारी नही है। जांच कर कारवाई की जाएगी।



रिपोर्ट : राममिलन तिवारी

No comments