Breaking News

पुलिस के कड़े रुख और दो दिन पंचायत के बाद युवक के परिजन हुए तैयार, हुई शादी

 


बेल्थरारोड, बलिया। नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती द्वारा मऊ जनपद के हलधरपुर थाना क्षेत्र के अईलख इमलिया निवासी युवक पर शादी का झांसा देकर दो वर्ष तक सम्बन्ध बनाने व जबरन बाइक पर बैठाकर भगाने का आरोप लगाने के बाद पुलिस के कड़े रुख अख्तियार करने व दो दिनों तक चली पंचायत के बाद युवक के परिजन शादी के लिए तैयार हो गए। शुक्रवार रसड़ा स्थित श्रीनाथ बाबा मन्दिर में युवक और युवती अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लिए और जन्म जन्मांतर के लिए एक दूजे के हो गए।

             नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती ने बुधवार को पुलिस को दिए तहरीर में कहा था कि उसकी शादी वर्ष 2016 में इटावा जिला में हुई थी। वह दो वर्ष तक अपने पति के साथ रही, इस बीच एक बच्ची भी पैदा हुई। किसी कारण वश दोनों के बीच का रिश्ता टूट गया तो उसका पति बच्ची को अपने साथ रख लिया और वह अपने माता पिता के घर आ गई। इसी बीच हलधरपुर थाना क्षेत्र के अईलख इमिलिया निवासी युवक उसके घर आने लगा और पीड़िता से शादी करने की बात कहकर उससे सम्बन्ध बना लिया। पीड़िताका सम्बन्ध दो साल से चला आ रहा है। पीड़िता ने आरोप लगाया था कि युवक मुझसे कहीं भागने की बात कहता था और सम्बन्ध बनाता रहा। बुधवार को वह बाजार करके घर जा रही थी तभी युवक बाइक लेकर उसे रास्ते में घेर लिया और जबरन बाइक पर बैठाने लगा। पीड़िता ने उसके साथ भागने से इंकार करते हुए शादी की बात कही। तभी पीड़िता के दो चाचा उसे पकड़ लिए और गांव में पंचायत होने लगी। युवक मुझसे शादी करने के लिए तैयार हो गया लेकिन उसके परिजन शादी करने से मना कर दिए। इसके बाद पीड़िता के परिजनों ने फोन कर डॉयल 112 को बुला लिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को पकड़ कर थाने ले आई। इसके बाद पुलिस द्वारा युवक व उसके परिजनों के विरुद्ध कड़ा रुख अख्तियार करने व दोनों पक्षों के बीच दो दिनों तक चली पंचायत के बाद युवक के परिजन शादी के लिए तैयार हो गए। शुक्रवार को दोनों पक्ष राजी खुशी श्रीनाथ मठ रसड़ा पहुंचे। वहां युवती ने अग्नि को साक्षी मानकर युवक के साथ सात फेरे लिए तथा हमेशा के लिए एक दूजे के हो गए।

                                   संतोष द्विवेदी

No comments