Breaking News

जलेसर सिंह हत्याकांड में वांछित एक लाख का इनामी बदमाश हरीश पासवान मुठभेड़ में ढ़ेर




 बलिया: यूपी के बलिया जिले के रसड़ा थाना क्षेत्र के नींबू कबीरपुर गांव के समीप स्पेशल टास्क फोर्स ने यूपी और बिहार के विभिन्न जिलों में वांछित और में एक लाख के ईनामी बदमाश हरीश पासवान को मुठभेड़ में मार गिराया है.




हल्दी थाना के बाबूबेल निवासी हरीश पासवान की रचना नींबू चट्टी पर शुक्रवार की दोपहर एसटीएफ और रसड़ा पुलिस की मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हो गया। जिसे सीएससी के चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने इनामी अपराधी और पुलिसिया मुठभेड़ में घायल हरीश पासवान को मृत घोषित कर दिया.दो दर्जन से ज्यादा गम्भीर मुकदमों में वांछित था हरीश पासवान.




वाराणसी ज़ोन में बड़ी बड़ी घटनाओं को अंजाम देने वाला बदमाश हरीश पासवान ,मुठभेड़ में मारा गया..



रसड़ा में हुई मुठभेड़ में मृत पड़ा हरीश पासवान

पुलिस अधीक्षक बलिया राजकरन नैय्यर का वर्जन

जलेश्वर हत्याकांड के बाद फरार : सात जुलाई को बैरिया में दिनदहाड़े गोली मारकर हुई पूर्व जिला पंचायत सदस्य जलेश्वर सिंह की हत्या में फरार चले रहे आरोपित अंतरप्रांतीय शातिर अपराधी हरीश पासवान निवासी बाबूवेल बैरिया को लखनऊ एसटीएफ ने रसड़ा में मुठभेड़ के दौरान ढेर कर दिया। उस पर गुरुवार को ही एक लाख का इनाम घोषित किया गया था। अपर पुलिस महानिदेशक जोन वाराणसी बृजभूषण शर्मा इस अपराधी के बारे में सूचना देने वाले व बंदी बनाने वालों को धनराशि से पुरस्कृत करने की घोषणा कर चुके थे। अपराधी पर हत्या, लूट व रंगदारी मांगने के कई मुकदमे यूपी के विभिन्न जनपदों के अलावा बिहार व छत्तीसगढ़ में दर्ज हैं। हाल ही में जेल से छूटने के बाद पूर्व जिला पंचायत सदस्य की हत्या में आरोपित हुआ था। इसके बाद से वह फरार चल रहा था। इसके खिलाफ छत्तीसगढ़ में कोयला व्यापारी पप्पू पटेल निवासी बांगो थाना कोरवा की सुपारी लेकर हत्या करने का भी मुकदमा दर्ज है। पुलिस रिकार्ड में डी-12 गैंग का लीडर था। इसके गैंग में आधा दर्जन सदस्य घटनाओं को अंजाम देते रहे हैं। इधर बीच पूर्व जिला पंचायत सदस्य की हत्या के बाद यह फिर सुर्खियों में आ गया। इसके बाद से वह लगातार फरार चल रहा था। इसकी तलाश में एसओजी से बैरिया पुलिस लगी हुई थी, लेकिन गुरुवार को सुबह लखनऊ एसटीएफ की टीम ने इसे रसड़ा में मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। उसके पास कई असलहे भी बरामद हुए हैं। पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई है।



पूर्वांचल का चर्चित नाम था हरीश : बलिया जिला पुलिस के अनुसार वाराणसी परिक्षेत्र में हरीश जरायम की दुनिया में बड़ा नाम था। पूर्व में कई बड़े और चर्चित मामलों में उसकी संलिप्‍तता रही है। इसकी वजह से पुलिस को लंबे समय से उसकी तलाश रही है। बड़ी घटनाओं को अंजाम देने वाला बदमाश हरीश पासवान आखिरकार पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। एसटीएफ के अनुसार बलिया के रसड़ा में हुई मुठभेड़ में मारे गए बदमाश पर दो दर्जन से ज्यादा गम्भीर मुकदमे दर्ज थे और कई बड़े मामलों में वह लंबे समय से वांछित था।



रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments