Breaking News

Akhand Bharat

बलिया में बीज की दुकानों पर छापेमारी, 45 नमूने जांच हेतु लैब भेजे गए

 




बलिया।जिला प्रशासन निर्धारित मूल्य पर गुढवत्तापूर्ण बीज ,उर्वरक किसानों को उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है।बीज एवम उर्वरक के पर्याप्त स्टॉक जनपद में उपलब्ध है।अपर मुख्य सचिव कृषि के द्वारा दिए गए निर्देश के क्रम में जिलाधिकारी महोदया बलिया के द्वारा बीज व उर्वरक की दुकानों पर सघन जांच छापे की कार्रवाई हेतु आज जनपद में अचानक छापा डालने की कार्रवाई की गई।तहसील सिकंदरपुर   में जिला कृषि अधिकारी के द्वारा छापे की कार्रवाई की गई इसमें कुल 17 प्रतिष्ठानों को चेक किया गया।इसमें21 बीज नमूने ग्रहित किये गए।बेलथेरारोड तहसील में अपर जिला कृषि अधिकारी द्वारा 19 बीज दुकानों का निरीक्षण कर बीज के 20 नमूने ग्रहित किये गए।बैरिया तहसील में जिला कृषि अधिकारी द्वारा 11 दुकानों का निरीक्षण कर 4 बीज नमूने ग्रहित किये गए तथा अन्नपूर्णा बीज केंद्र का वितरण रजिस्टर पूर्ण न होने पर चेतावनी जारी किया गया।


निरीक्षण के दौरान गोदाम में उपलब्ध स्टॉक और पोस मशीन के स्टॉक का सत्यापन किया गया, अभिलेखों को देखा गया ,रिकॉर्ड चेक किए गए तथा दुकानदारों को निर्देशित किया गया कि खतौनी के अनुसार ही किसानों को बीज व   खाद उपलब्ध कराई जाए।जिन किसानों के पास संयुक्त खतौनी है उसमें भी उनकी हिस्सेदारी को संज्ञान में लेकर ही कार्य किया जाए ।किसी भी स्थिति में कालाबाजारी नहीं होने दिया जाएगा। मौके पर उपस्थित कृषकों से वार्ता की गयी। रसीदें भी चेक किया गया । वर्तमान में कृषि की बुवाई तेजी से हो रही है ऐसे में निरंतर दुकानों की चेकिंग कराई जाएगी । बिहार बॉर्डर के दुकानों पर कृषि विभाग द्वारा क्षेत्रीय कृषि कर्मचारी एवम उप जिलाधिकारी द्वारा स्टैटिक रूप से लेखपालों की ड्यूटी भी लगा दी गई है। जो अपने देखरेख में वितरण कार्य करेंगे। छापे के दौरान कुल 45 बीज नमूने भी ग्रहण किए गए। 

        इस प्रकार की कार्रवाई आगे भी निरंतर चलती रहेगी। प्रत्येक दशा में जिला प्रशासन सुनिश्चित करेगा कि रबी की बुवाई में किसानों को कहीं भी बीज व उर्वरक की कमी न हो एवं ना तो कोई दुकानदार किसानों से अधिक मूल्य ले सके। किसी दुकानदार को कालाबाजारी नहीं करने दिया जाएगा। यदि कोई दुकानदार अधिक मूल्य पर बीज एवं उर्वरक की बिक्री करते पाया जाता है  तो  उसके विरुद्ध प्रशासनिक कार्रवाई आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3/7 के तहत की  जाएगी।



रिपोर्ट धीरज सिंह




No comments