Breaking News

Akhand Bharat

सनबीम में उच्च शैक्षिक अध्ययन व रोजगार के टिप्स पाकर बच्चों के चेहरे खिले



 


 बलिया। अस्थियां बेधती कड़कड़ाती ठंड में विभिन्न प्रदेशों से पधारे 30  यूनिवर्सिटीज के  एक्सपर्ट्स व कैरियर काउंसलर्स का उत्साह बच्चों व व्यवस्था को देखकर प्रतिकूल मौसम पर भी भारी पड़ गया। यद्यपि इस 'ग्रेट एजुकेशन एक्सपो - 2023' के मेले में अपराहन सूर्य ने भी अपनी किरण की उपस्थिति दर्ज करा दी थी। लगभग 10:30 पूर्वाह्न से 4:00 अपराह्न तक लगे इस मेले में बच्चों ने समग्र मनोयोग से अपना उत्साह दिखाया। मेले में विभिन्न कैरियर काउंसलर्स व एक्सपर्ट्स ने बच्चों को उनकी प्रतिभा, इच्छा,उचित कार्य क्षेत्र के निमित्त  सुझाव व जानकारी प्रदान की।

      विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक व मीडिया प्रभारी डॉ नवचंद्र तिवारी ने आगे बताया कि यह विशाल मेला 'हाईटेक सर्विसेज एंड सॉल्यूशन जयपुर' के सीईओ रामरतन माहेश्वरी के दिशा - निर्देश में सनबीम स्कूल अगरसंडा द्वारा आयोजित किया गया था। इस मेले में नोएडा, चंडीगढ़, गुरुग्राम, ग्वालियर, बंगलोर, रुड़की, लखनऊ गांधीनगर, देहरादून, विशाखापट्टनम आदि बड़े शहरों के यूनिवर्सिटीज के एक्सपर्ट्स मौजूद थे। इस प्रकार का आयोजन जनपद में पहली बार था। रजिस्ट्रेशन निःशुल्क था। इनमें से कुछ ऐसे यूनिवर्सिटीज हैं जो 90% या इससे ऊपर अंक पाए बच्चों को स्कॉलरशिप के तहत निशुल्क शिक्षा देते हैं।  गरीबी रेखा से निम्न जीवन यापन वाले बच्चों से 50% शुल्क ही लिया जाता है

       इसी क्रम में उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशन में माननीय जनपद न्यायाधीश जितेंद्र कुमार पांडेय (अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बलिया) के निर्देशानुसार दिनांक 8 जनवरी रविवार को ही 'विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर' का उद्घाटन जनपद न्यायाधीश नरेंद्र पाल राणा (सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बलिया) के द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। 

      उन्होंने विद्यालय प्रबंध तंत्र के साथ विद्यालय के नए वर्ष के कैलेंडर का भी लोकार्पण किया। अपने उद्बोधन में उन्होंने बच्चों को बताया कि यहां सनबीम में विभिन्न स्टाल पर बैठे एक्सपर्ट्स व काउंसलर्स देश के उच्च टेक्नोलॉजी से युक्त सुप्रसिद्ध विश्वविद्यालयों के हैं। विद्यालय ने बड़े ही सलीके से बच्चों के हित में ऐसा शानदार व प्रशंसनीय आयोजन किया है। बस आपको अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित रहना है। उन्होंने आगे बताया कि जनपद न्यायालय में 31 जनवरी को 'विशेष लोक अदालत' व 11 फरवरी को 'राष्ट्रीय लोक अदालत' का भी आयोजन किया गया है।

       विद्यार्थियों के सदैव सर्वांगीण विकास में प्रयासरत विद्यालय के निदेशक डॉ कुंवर अरुण सिंह ने कहा कि पहले अभिभावक बच्चों पर पढ़ने हेतु विज्ञान को ही महत्व देते थे। परंतु आज विकास के अनेकानेक क्षेत्र कार्य कर रहे हैं। बस आपको सही समय पर उचित मार्गदर्शन चाहिए। इसके लिए विद्यालय सदैव प्रतिबद्ध है। उन्होंने अवकाश व प्रतिकूल मौसम में भी शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के पूर्ण सहयोग करने पर उनकी प्रशंसा भी की।

      विद्यालय की प्रधानाचार्या डॉ अर्पिता सिंह ने बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए मेले में आए सभी कैरियर विशेषज्ञों, अभिभावकों व बच्चों का आभार व्यक्त किया। विद्यालय के चेयरमैन संजय पांडेय, निदेशक व प्रधानाचार्या ने मंच पर जनपद अपर न्यायाधीश सहित सभी एक्सपर्ट्स व काउंसलर्स को सम्मानित किया। 

     इस अवसर पर प्रशासक एस के चतुर्वेदी, कोऑर्डिनेटर्स पंकज सिंह, सहरबानो, नीतू पांडेय,निधि सिंह सहित समस्त शिक्षक गण, कार्यालय स्टाफ व शिक्षणेत्तर कर्मचारी मौजूद रहे। संचालन सान्या दुबे व सर्वकृतिका सिंह ने किया।


रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments