Breaking News

जाने कैसे प्रेमिका बनी पत्नी और फिर हो गई बेवा


 
फाइल फोटो 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में रहने वाले दुष्यंत गिरि ने बरेली की रहने वाली अपनी प्रेमिका आशा के साथ धूमधाम से शादी की। दूल्हा-दुल्हन के साथ परिवार के सभी सदस्य इस शादी से खुश थे। एक-दूसरे को बधाई दी। शाम को दुल्हन को विदा कराने के बाद घर लौटते समय कार एक ढाबे पर रुकी और अचानक दूल्हा गायब हो गया।खोजबीज के बाद अगले दिन मंगलवार की सुबह दूल्हे का शव जंगल में एक पेड़ पर लटका मिला।


22 वर्षीय दुष्यंत गिरि पेट्रोल पंप पर सेल्समैन की नौकरी करता था। सोमवार को दुष्यंत की शादी बरेली की आशा से हुई। वह अपनी दुल्हन को विदा कराकर कार से घर लौट रहा था। कार में दो फोटोग्राफरों के अलावा दुष्यंत, आशा, दुल्हन के साथ एक बच्ची और दुष्यंत का भाई सवार था। शाम करीब सात बजे नाश्ता-पानी के लिए दूल्हा-दुल्हन की कार पाकबड़ा में एक ढाबे पर रोकी गई। पुलिस की मानें तो ढाबे पर दूल्हा और दुल्हन ने नाश्ता किया। ​इसके बाद दुल्हन वापस कार में बैठ गई, लेकिन दूल्हा ढाबे से अचानक गायब हो गया।

परिवारवालों ने सभी जगह उसकी तलाश की, लेकिन कहीं कोई पता नहीं चला। परेशान होकर दुल्हन को वहां से घर भिजवा दिया गया और इधर परिजन उसकी तलाश में जुट गए। मंगलवार को सुबह जंगल में करीब दो किलोमीटर अंदर उसका शव टाई के सहारे पेड़ से लटका मिला। परिजनों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
प्रभारी निरीक्षक सुरेंद्र सिंह ने बताया कि जहां से दुष्यंत गिरि का शव मिला है वहां शराब की बोतल और दो गिलास भी मिले हैं। फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए हैं। शराब की बोतल और गिलास कब्जे में लेकर फिंगर प्रिंट ले लिए गए हैं। हत्या और आत्महत्या दोनों की बिंदुओं पर जांच की जा रही है। 

उधर, परिजनों ने दुष्यंत की हत्या कर फांसी पर लटकाने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि दुष्यंत ने आशा के साथ प्रेम विवाह किया था। उसे पत्नी से कोई शिकायत नहीं थी। वह खुशी-खुशी पत्नी को विदा कराकर ला रहा था।

डेस्क

No comments