Breaking News

करोना से बचाव के लिए उप जिलाधिकारी की आपातकालीन बैठक



सिकन्दरपुर (बलिया) उपजिलाधिकारी अन्नपूर्णा गर्ग की अध्यक्षता मे कोरोना वायरस से बचाव व सुरक्षा के मद्देनजर विचार विमर्श हेतु एक आपात बैठक मंगलवार को तहसील सभागार मे आयोजित की गई। जिसमें सभी तहसील कर्मियों व तहसील अधिवक्ता एसोसिएशन के सभी अधिवक्ताओं ने आपात बैठक मे सहभाग किया।
बैठक को संबोधित करते हुए उपजिलाधिकारी अन्नपूर्णा गर्ग ने तेजी से फैल रहे कोरोना नामक वायरस से बचाव व सुरक्षा के बारे में सभी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि जानलेवा कोरोना वायरस से बचने के लिए अभी कोई दवा नहीं बनी है। डॉक्टर कह रहे हैं कि सावधानी ही जानलेवा बीमारी का बचाव है। बताया कि इस वायरस से भारत में अबतक 114 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, पूरी दुनिया में करीब 1 लाख 82 हजार लोग संक्रमित हैं।
कोरोना से बचाव पर चर्चा करते हुए कहा कि बीमार लोगों से मिलने पर परहेज करें। यदि खुद बीमार हैं तो डॉक्टर से मिलने के अलावा बाहर निकलने से बचें। खांसी और जुकाम होने पर टिश्यू का इस्तेमाल करें। पानी और साबुन का इस्तेमाल करते हुए हाथों को बीस सेकेंड्स तक रगड़कर साफ करें। खाने के पहले और बाद, शौचालय के इस्तेमाल के बाद अवश्य साबुन से हाथ धुलें तथा सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें। इस दौरान तहसीलदार दुधनाथ राम ने भी कोरोना वायरस से बचाव के बारे में विस्तार से चर्चा कर सभी को  जागरूक किया।
इस बैठक मे मुख्य रूप से विजय शंकर पाठक, जितेश वर्मा, संजय सिंह, जितेन्द्र लाल श्रीवास्तव, सुनील कुमार राय, अमरनाथ गुप्ता, शशिभूषण राय, राजकुमार यादव, धनन्जय राय, नवल किशोर मणि पाण्डेय, मदन मोहन राय, प्रमोद कुमार राय, शम्भू मिश्रा, सुशील सिंह आदि मौजूद रहें।


रिपोर्ट-हेमंत राय

No comments