Breaking News

> > >

डीएम ने क्रय केंद्र का किया निरीक्षण, सोशल डिस्टेंस को ध्यान में रखते हुए हो खरीद



- कोटेदार के यहां से वितरण के बाद खाली हो रहे बोरे का भी होगा उपयोग

बलिया : जिले के कुल 75 क्रय केंद्रों पर 15 अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू हो गई है। जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने पूरी पारदर्शिता और सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए खरीद करने का निर्देश दिया है। उन्होंने गुरुवार को मंडी समिति में हो रही खरीद का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने क्रय केंद्र प्रभारी को सोशल डिस्टेंस को ध्यान में रखते हुए खरीद करने का निर्देश दिया। किसानों से भी बातचीत की और कहा कि खरीद से जुड़ी अगर कोई भी शिकायत हो तो सीधे मुझे बताएं। स्पष्ट किया कि इसमें कोई भी अनियमितता या लापरवाही पर कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

उन्होंने सभी विपणन निरीक्षकों और क्रय केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिया है कि गेहूं खरीद में इस बात का ध्यान रखा जाए कि किसान को खरीद के लिए जो तिथि दी जा रही है, उसी तिथि पर उनका गेहूं प्राप्त कर लें। किसी भी हालत में क्रय केंद्र पर किसानों की भीड़ नहीं होनी चाहिए। क्रय केंद्र पर काम कर रहे मजदूर व वहां मौजूद हर कोई मास्क या गमछा का प्रयोग करें। बोरे की उपलब्धता को लेकर डीएम ने कहा कि कोटेदारों के यहां से खाद्यान्न वितरण होने के बाद जो बोरे बच रहे है, उसको भी लिया जा रहा है। हमारा यही प्रयास है कि बोरे की कमी की वजह से गेहूं खरीद प्रभावित ना हो। हालांकि, वर्तमान में बोरे की संख्या कम है। जिले की खरीद के लक्ष्य के सापेक्ष दो हजार गांठ बोरे की आवश्यकता है लेकिन वर्तमान में 370 गांठ है। इसी को देखते हुए शासन की ओर से निर्देश है कि कोटेदार के यहां वितरण के बाद खाली हो रहा है बोरे को भी खरीद में उपयोग किया जाए।


रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments