Breaking News

तुफानी कुदरत का कहर मां की मौत बच्चों का उपचार जारी


रसड़ा (बलिया)  उत्तर प्रदेश के बलिया जनपद में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस का दंस झेल ही रहें थे तब तक शनिवार की रात लगभग 9 बजे आयी भीषण आंधी- तूफान व वर्षा के बीच रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के नागपुर गांव में रिहायशी झोपड़ी के धराशायी हो जाने से एक तरफ जहां महिला पूनम देवी (35) वर्ष पत्नी हृदय नारायण की मौत हो गई वहीं उसकी मासूम पुत्री साक्षी उम्र  (4) वर्ष सहित उसकी दूसरी पुत्री पारूल (15) वर्ष तथा पुत्र हिमांशु (13)वर्ष गंभीर रूप से घायल हो गए।  ग्रामीणों के अनुसार महिला पूनम अपने बच्चों के साथ झोपड़ी के अंदर भोजन कर रही थी कि इसी बीच आया तूफान व वर्षा में अचानक उसकी झोपड़ी धराशायी हो गई जिसके दिवार के मलबे में सभी दब गए। चीख-पुकार को सुनकर पास-पड़ोस के लोग वहां पहुंचे और आनन फानन में सभी घायलों को मलबे से निकालकर रसड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र  पहुंचाया जहां महिला पूनम सहित उसके तीनों बच्चों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया लेकिन पूनम बलिया सदर अस्पताल में दम तोड़ दिया। शेष गंभीर रूप से घायल बच्चों को बलिया से रेफर कर दिया मऊ जनपद के सिद्धिविनायक  अस्पताल में उपचार चल रहा है जहां उनकी चिंता जनक बनी हुई है।


रिपोर्ट : पिन्टू सिंह

No comments