Breaking News

भोजपुरी लेखक ने क्वारंटाइन सेंटरों के लिए दी किताबें



बलिया : क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए मरीज बोर नहीं हों, इसके लिए भी तरह-तरह के उपाय किए जा रहे हैं। इसी क्रम में, भोजपुरी मातृभाषा के लेखक राजेश्वर प्रसाद गुप्त 'राजगुप्त' ने कुछ किताबें प्रशासन को सुपुर्द किया है। उन्होंने बुधवार की शाम जिलाधिकारी एसपी शाही से मिलकर खुद की प्रकाशित कुल 35 पुस्तकें सौंपी। जिलाधिकारी ने भी मनोरंजन के बेहतर साधन के रूप में किताबें देने के लिए भोजपुरी लेखक को धन्यवाद ज्ञापित किया। किताबों में 'उरिन', 'अंजीर सांच के' व 'सिक्कड़' की 10-10 किताबें और 'मुर्दा के मलिकार' नामक पुस्तक की 5 प्रतियां जिलाधिकारी एसपी शाही को दिया। इसका उद्देश्य यही है कि क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए लोगों का मन बोझिल न हो और मनोरंजन भी उनका बेहतर दिशा में हो सके।



रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments