Breaking News

विद्यार्थी परिषद ने चीनी राष्ट्रपति का पुतला फूंका


सिकन्दरपुर (बलिया)। भारत और चीन के मध्य चल रहे तनावपूर्ण रिश्ते व विवाद के बीच "गलवान घाटी" में दोनों मे दोनों देशों के सेनाओं के बीच हुई झड़प में भारत के कर्नल सहित 20 जवान शहीद हो गए थें, जिसको लेकर पूरे हिंदुस्तानियों में आक्रोश व्याप्त है। वही चाइना का पूरी तरह से बहिष्कार जारी है। इसी क्रम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ईकाई सिकन्दरपुर के कार्यकर्ताओं ने  शुक्रवार को नगरा मोड़ पर भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला फूंका तथा कार्यकर्ताओं ने जमकर चीन विरोधी नारें लगायें। प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य आकाश तिवारी ने कहा कि भारत-चीन सीमा पर विस्तारवादी चीन के भारतीय भू-भाग को कब्जाने के चीनी सैनिकों के घृणित प्रयासों की हम सभी घोर निन्दा व कठोर प्रतिकार करते हैं। कहा कि रणबांकुरो का शहीद होना व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने सभी देशवासियों से चीनी सामान के बहिष्कार करने की भी पूरजोर अपील की। नगर उपाध्यक्ष डॉ पंकज मिश्रा ने शहीदों को नमन करते हुए कहा कि सच मायनों मे शहीद हुए जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब पूर्ण रूप से हमसभी मिलकर चीन के बनाए प्रोडक्ट व उत्पादों का खुला बहिष्कार करेंगे। कहा कि देश की सेना देश के लिये अपना कार्य कर रही है। ऐसे मे हमसब को मिलकर देशहित मे चीन का बहिष्कार करना होगा। विश्वनाथ यादव, अमरजीत राजभर, अनुपम दुबे, विवेक जयसवाल, मनीष राय, आशुतोष गिरी, शक्ति मिश्रा, आदित्य राय छोटु, राकेश जयसवाल, आकाश गिरी, विशाल सिंह व अजीत बारी आदि शामिल रहे।



रिपोर्ट- हेमंत राय

No comments