Breaking News

गांवों में सार्वजनिक भूमि पर बढ़ रहा अवैध कब्जा, जिम्मेदार मौन



चिलकहर(बलिया): विकास खण्ड चिलकहर के ग्रामीण अंचलों बछईपुर, पिपरा,बहोरापुर, रामपुर, बर्रेबोझ, इसारी सलेमपुर, इंदरपुर, वीराभांटी, पान्डेयपुर,बसनवार समेत गांवो मे खेल का मैदान, शमशान, खलिहान व परिषदीय विद्यालयों की जमीनों पर अवैध कब्जे से हालात बदतर होते जा रहे है।अब तो गांवों के अंदर व बाहर के संपर्क मार्गो पर लोगों द्वारा कब्जा किया जा रहा है,जिसको लेकर गंवई माहौल बिगड़ता जा रहा है।                                   

गांवों के हालात की सच्चाई है आज हालात यह है कि जिन गांवो के अंदर चारपहिया वाहन चले जाते थे आज मोटरसायकिल लेकर जाना दुरूह कार्य होता जा रहा है।सार्वजनिक भूमि व संपर्क मार्गो से अवैध कब्जा हटाने की फाइलें उपजिलाधिकारी कार्यालय मे आलमारी की शोभा बढ़ा रही है।गांवो मे सार्वजनिक जमीन को लेकर विवाद की घटनायें बढ़ती जा रही है।जिम्मेदार मौन साधे हुये है।परिषदीय विद्यालय के भवन के आगे की जमीन को छोड़ दिया जाय तो किसी भी गांव मे खलिहान तक की जमीन नही बच सकी है।शादी विवाह के मौके के लिये गांवो मे खेत कटने का इंतजार किया जा रहा है।

कही कही पर तो गांवो के जिम्मेदार लोग ही कब्जाधारी बनकर रह गये है।अब तो हालात यह है कि गांवो मे सार्वजनिक स्थल रह ही नही गये है।गांवो के अंदर मे सीसी सडक व गलियों से सटाकर मकान बनाकर निकास बन जा रहा है। जलनिकासी के लिये लोग सडको पर ही पानी गिराने लग रहे है।  संपर्क अशोक सिंह,व देवानन्द यादव,अनूप सिंह ने जिलाधिकारी बलिया का ध्यान आकृष्ट कराते हुये सार्वजनिक भूमि से अवैध कब्जा हटवाने की मांग की है।       


रिपोर्ट --एसके पान्डेय


No comments