Breaking News


झोला छाप डाक्टर की लापरवाही के चलते प्रसूता की गई जान, बच्चे का चल रहा इलाज



रतसर(बलिया):  सिकंदरपुर स्थित एक नर्सिंग होम में आपरेशन से प्रसव के बाद शनिवार को मौत के गाल में समायी गड़वार थाना क्षेत्र के अभईपुर निवासिनी संगीता यादव पत्नी सोनू यादव का आपरेशन रतसर कस्बा के एक नर्सिंग होम में शनिवार की सुबह हुई।

इसकी जानकारी मृतक की ननद चिंता देवी ने देते हुए बताया कि 12जून शुक्रवार को प्रसव पीड़ा होने पर संगीता को लेकर स्थानीय पीएचसी पर ले जाया गया।वहां से उन्हे तड़के 13जून को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया ,लेकिन एक आशाबहु के सलाह पर रतसड़ कस्बा में संचालित एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। यहां पर तैनात  चिकित्सक ने सुबह 9 बजे तक आपरेशन कर बच्चा पैदा करा दिया। 

इसी बीच संगीता की स्थिति गंभीर हो गई तो बिना हमको बताये चिकित्सक अपने निजी साधन से संगीता और नवजात को लेकर सिकंदर पुर चले गये। जहां शाम को चार बजे इलाज के दौरान संगीता की मौत हो गई। इधर संगीता के मौत की खबर जैसे ही गांववालों को हुई गांव में मातम पसर गया। गुस्साये लोग यहां नर्सिंग होम पर आकर हंगामा करने लगे।इसकी जानकारी पुलिस को हुई तो भारी संख्या में पुलिस बल के साथ एसओ गड़वार अनिल चंद तिवारी पहुंचे और मामले को शांत कराया  I 

बताते है कि जिस नर्सिंग होम में संगीता की मौत हुई है उसी नर्सिंग होम का चिकित्सक रतसड़ कस्बा में भी अवैध रूप से नर्सिंग होम चलाता है। लोंगो ने बताया कि क्षेत्र की कई आशाबहुएं इस चिकित्सक के संपर्क में है और अक्सर इस नर्सिंग होम में देखी जाती है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments