Breaking News

कोरोना काल में बढ़ा चोरों का आतंक, एक साथ चार घरों को खंगाला




बाँसडीह, बलिया: वर्षों से चोरी की घटनाओं पर लगे अंकुश में अब इजाफा होने लगा है। बांसडीह कोतवाली क्षेत्र में बीती रात चार  जगह चोरों ने घर को खंगाल दिया।इस इलाका में वर्षों बाद चोरी घटना होने से क्षेत्र में दहशत ब्याप्त हो गया हैं।सूचना मिलते ही पहुँची पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी।

शनिवार की नन्दलाल गोंड़ पुत्र स्व जगमोहन गोंड़ निवासी पतिसा मौजा बँकवा में चोरों ने  आम पेड़ के सहारे छत पर लगे दरवाजे की कुंडी तोड़कर  नीचे आंगन में उतर कर इतना सफाई से चोरी किया कि किसी को भनक तक नही लगी।घर के बाहर पुरुष लोग सीए थे।एक घर मे जो लोग परिवार के सोये थे उनके कमरे को बाहर से बन्द कर दिए।उसके बाद चोरों ने नन्द जी के घर से लगभग  दो लाख नगद ,गहना, कपड़ा और सारा सामान लेकर चले गए। नंद जी के लड़के की शादी 17 अप्रैल को तिलक और 26 अप्रैल की शादी थी।और करोना केकोविड19 की वजह सेशादी दिसम्बर में होनी थी।

 नंद लाल गोंड़  का लड़का अविनाश आजमगढ़ के पवई थाना में  इस समय उत्तरप्रदेश पुलिस में कार्यरत हैं।वहीं उच्च दूरी पर  शिवजी वर्मा, के घर मे पीछे से घुसकर  चोरों ने नगद लगभग 5000 रुपये लेकर चले गए।

लोगों की जगने भनक से चोर भग गए। फिर कुछ दूरी पर ही  रामनिवास सिंह के घर मे कुछ नही मिला तो डिब्बे में रखी दाल,ही उठा ले गए। फिर चोरों ने दराव ग्राम के प्रधान कमलाकर यादव के यहां चोर छत के ही शेयर घुस कर बाहर से सभी घरों के दरवाजे बंद कर दिए। एक घर खुला रख उसमे से 4000 नगद एक आलमारी में रखे उठा लिए। हालांकि कुछ आवाज सुन घर की महिलाएं बाहर सोये परिवारीजनों के फोन पर सूचना दी तभी हो हल्ला सुन  और आवाज की भनक मिलते लोग जग गए। तब तक चोर पेंड़ के सहारे निकल चुके थे।

सूचना मिलते ही प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार सिंह  मौके पर पहुँचकर मौका मुआयना किया।और जल्द ही घटना का पर्दाफाश करने की बात कही।




रिपोर्ट रविशंकर पांडेय




No comments