Breaking News

कोविड - 19 के मरीजों के सैम्पलिंग एवं होम आइसोलेशन में विशेष सावधानी बरते-डा०ए.के. मिश्रा




रतसर (बलिया) कोविड - 19 मरीजों की बढती संख्या पर अंकुश लगाने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे है।  इसके लिए सर्विलांस कार्य और कांटेक्ट ट्रेसिंग पर विशेष फोकस है। पाजिटिव मिले मरीजों के संपर्क में आए लोंगों की जांच भी युद्धस्तर पर की जा रही है। इसी क्रम में सोमवार को जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा० अरविन्द कुमार मिश्रा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कोविड - 19 से संबंधित गहन समीक्षा बैठक की। उन्होनें ने कोरोना संक्रमित मरीजों के रिकार्ड के बारे में पुछताछ किया तथा प्रत्येक मरीज की अलग-अलग फाइल तैयार करने के बारे में बताया। उन्होने कहा कि प्रत्येक मरीज के फाइल में उनके कन्टैक्ट, सैम्पल, होम आइसोलेसन सहित सात रिकार्ड हमेशा अपडेट करके रखे। साथ ही अन्य ब्लाक से कोई मरीज सैम्पलिंग के लिए आता है तो उससे एक शपथ पत्र लिखवा ले कि शपथकर्ता की सैम्पलिंग कही अन्य जगह पर नहीं हुई। इसका मुख्य कारण दूसरे जगह पर वह निगेटिव आता है तो विवाद होने लगता है। ध्यान देने वाली बात है कि संक्रमित मरीज मिलने के 24 घंटे के अन्दर हर हालत में उसकी ट्रेसिंग, सैम्पलिंग एवं होम आइसोलेशन सहित उसकी स्वास्थ्य की जांच हो जानी चाहिए। इसके लिए सभी को एक टीम की भावना से कार्य करने की जरूरत है। स्थानीय सीएचसी का रिकार्ड देखने के बाद उन्होंने संतोष व्यक्त किया और कहा कि प्रत्येक स्वास्थ्य कर्मी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करे तो सभी का काम आसान हो जाएगा। बैठक में डा० राकिब अख्तर, अनिल कुमार, धनेश कुमार, एस.एन त्रिपाठी, एच. के. सिंह मौजुद रहे।



रिपोर्ट: धनेश पाण्डेय

No comments