Breaking News

पर्यावरणीय संपदा मानव जीवन का मूल आधार


बलिया: स्वच्छ भारत मिशन के तहत नेहरू युवा केंद्र बलिया के तत्वावधान में  व जिला युवा समन्वयक अतुल शर्मा के दिशा निर्देश में  मुरली छपरा विकासखंड के कोडहरा नौबरार गांव में  अनलॉक के नियमों का पालन करते हुए पौधारोपण किया गया।  



इस मौके पर नेहरू युवा केंद्र बलिया की राष्ट्रीय युवा स्वयंसेविका नंदिनी सिंह ने  कहा कि आज जिस तरीके से पर्यावरणीय संपदा का दोहन किया जा रहा है। यह भविष्य के लिए बहुत बड़ी समस्या को जन्म देगा।  कहा कि लगातार हो रहे प्राकृतिक संसाधनों के दोहन से यह समाप्ति के कगार पर आ चुके हैं।  जिसके कारण प्राकृतिक मैं असंतुलन की स्थिति उत्पन्न होती जा रही है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील किया कि कोरोना वैश्विक महामारी में सरकार के सभी दिशानिर्देशों का लोग पालन करें। किसी तरह की लापरवाही ना बरतें बचाव व जांच से ही इस बीमारी को हराया जा सकता है। 

आप एक जिम्मेदार नागरिक होने का फर्ज निभाएं यही राष्ट्र धर्म, राष्ट्रप्रेम और राष्ट्रीय कर्तव्य है।  राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक राहुल ने बतलाया कि पौधों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व है। पर्यावरणीय संपदा मानव जीवन का मूल आधार है।  हम सबको अपने आसपास के परिवेश से पौधारोपण की शुरुआत करनी है। कहा कि वन संपदा  की रक्षा करना हम सब की नैतिक जिम्मेदारी है।  इससे मानसिक और सामाजिक रुप से अच्छा होने का एहसास होता हैं।   तथा व्यक्ति के विचारों में भी सकारात्मकता आती है। इस मौके पर अनुपम, श्याम ,मनोज आदि लोग मौजूद रहे।


रिपोर्ट:- नितेश पाठक

No comments