Breaking News

नियमित टीकाकरण में शामिल होगी न्यूमोकोकल कंजुगेट वैक्सिन





गड़वार (बलिया):पांच साल व इससे छोटे बच्चों की मृत्यु का मुख्य कारण न्यूमोनिया और डायरिया होते है। स्वास्थ्य विभाग अब न्यूमोकोकल कंजुगेट वैक्सिन (पीसीवी) टीकाकरण अभियान से इन बीमारियों के कारण होने वाली बच्चों की मौत की रोकथाम पर अंकुश लगाने की तैयारी पूरी तरह कर चुका है। गुरुवार को स्थानीय कस्बा स्थित प्रा० विद्यालय के परिसर में पीसीवी वैक्सिन की शुरुआत करते हुए सीएचसी प्रभारी डा० राकिफ अख्तर ने बताया कि यह टीका अब तक सिर्फ निजी अस्पतालों में ही लगता था लेकिन अब सरकारी अस्पताल में यह नि: शुल्क लगेगें। 

निजी अस्पताल में पीसीवी की एक डोज की कीमत तीन हजार से चार हजार रुपए है। उन्होने बताया कि न्यूमोकोकल कंजुगेट की तीन डोज इंजेक्सन के रुप में बच्चों को दी जानी है। पहला इन्जेक्सन बच्चे को डेढ महीने के होने पर पेंटा-1 के साथ लगेगा। दूसरा साढे तीन महीने पर और तीसरा एमआर के साथ बच्चे को नौ महीने पूरे होने के बाद लगाया जाएगा। कार्यक्रम में बीसीपीएम अनिल कुमार, धनेश कुमार पांडेय, युनीसेफ के निहाल अहमद, डब्लूएचओ से सद्दाम, कुसुम देवी, आशासंगिनी मीरा के साथ आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ती मौजूद रहे।



रिपोर्ट :पीयूष श्रीवास्तव

No comments