Breaking News

हाईटेन्सन तार की चपेट में आने से बीएसस जिलाध्य‌क्ष राजेश कुमार मिश्रा के अनुज का निधन, शोक में डूबा पूरा क्षेत्र

 


रतसर (बलिया)गड़वार थाना क्षेत्र के मसहां गांव निवासी अमरनाथ मिश्रा के छोटे पुत्र 28 वर्षीय दीपक मिश्रा के हाइटेंशन तार के चपेट में आने से शुक्रवार को मौत हो गई। मौत की खबर सुनते ही गांव में कोहराम मच गया।

बताया जाता है कि ब्राह्मण स्वयंसेवक संघ के जिलाध्यक्ष राजेश मिश्रा के  छोटे भाई दीपक मिश्रा बेरोजगार थे। उन्हीं के लिए परिवार के लोग फ्लावर मिल का निर्माण करा रहे थे। जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी दीपक के उपर ही थी। सुबह दस बजे के करीब मृतक के घर से लगभग 200 मीटर की दूरी पर स्थित फ्लावर मिल पर राजमिस्त्री एवं मजदूर काम कर रहे थे। उसी में से किसी ने दीपक से सरिया मंगाया। जैसे ही दीपक ने सरिया उठाया तब तक उस गांव में टावर चलाने के लिए 11 हजार वोल्ट का हाइटेन्शन तार से सरिया छू गया और  दीपक करेंट की चपेट में आकर छटपटाने लगे। बगल में काम कर रहे मजदूरों ने इसकी जानकारी परिजनों को दी। आनन-फानन में परिजन उन्हें निजी साधन से जिला अस्पताल पहुंचे जहां इलाज के दौरान दीपक की मौत हो गयी। मौत की खबर जैसे ही परिवार को मिली सभी लोग दहाड़े मारकर रोने लगे और पूरा गांव शोक में डूब गया।

मृतक तीन भाइयों में सबसे छोटा था। पांच वर्ष पूर्व उनकी शादी मनियर थाना क्षेत्र के महेन गांव में  पूजा मिश्रा से हुई थी लेकिन कोई संतान नही थी। मौत के सदमें में डूबी पूजा मिश्रा कुछ कहने की स्थिति में नहीं थी। रोते हुए केवल यही कह रही थी कि अब हमें कौन सहारा देगा। अचानक दीपक बुझने से परिजन से लेकर मित्र तक सभी शोक में डूबे थे।


ब्राह्मण स्वयंसेवक संघ के जिलाध्यक्ष राजेश कुमार मिश्रा के छोटे भाई के निधन  की खबर सुनते ही जनपद के संघ परिवार के लोगों का उनके आवास पर तांता लग गया। अचानक इस घटना से सभी मर्माहत थे। बीएसएस के जिला संरक्षक गोपाल जी पाण्डेय ने पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में ब्राह्मण स्वयंसेवक संघ परिवार के साथ खड़ा है। नियति को कोई टाल नही सकता। ईश्वर के आगे किसी का बस नही चलता। दीपक मिश्रा के अल्पायु में निधन से बहुत ही गहरा सदमा पहुंचा है।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments