Breaking News

> > >

कार्तिक पूर्णिमा स्नान व ददरी मेले में कोविड-19 प्रोटोकॉल को लेकर जिलाधिकारी ने दी जिम्मेदारी



बलिया: कोविड-19 मामलों में हो रही बृद्धि और इसी बीच 29/30 नवम्बर को कार्तिक पूर्णिमा का मुख्य स्नान पर्व और ददरी मेले को देखते हुए जिला प्रशासन गम्भीर है। कार्तिक पूर्णिमा के दिन काफी संख्या में लोग शहर होते हुए गंगा नदी में स्नान को जाते हैं। वहीं एक हप्ते तक ददरी मेला भी चलेगा। इसको लेकर जिलाधिकारी एसपी शाही ने सिटी मजिस्ट्रेट, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका, व डूडा के पीओ को निर्देश दिया है कि मेले के प्रत्येक प्रवेश द्वार पर पुलिस अधिकारियों एवं कार्मिकों की पर्याप्त तैनाती की जाए। प्रवेश द्वार पर यह रिकार्डिंग अपील लगातार प्रसारित की जाय कि लोग हमेशा शारीरिक दूरी बनाकर रहें और मास्क लगाए रखें। यह भी निर्देश दिया है कि मेले के भीतर एवं अन्य प्रमुख स्थानों पर चेकिंग कराकर सोशल डिस्टेसिंग एवं मास्क न पहनने वालों के विरुद्ध जुर्माना लगाया जाए।


मेले के द्वारों पर मास्क विक्री का लगेगा स्टाल


जिलाधिकारी ने नगर मजिस्ट्रेट, ईओ व पीओ डूडा को आपस में समन्वय कर स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार किये गये मास्क की ब्रिकी के लिए स्टाल भी मेले के प्रवेश द्वार, मेला के अन्दर एवं कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर्व पर लगवाना सुनिश्चित कराएंगे। इसका उद्देश्य है कि लोग सुगमता से मास्क खरीद कर लगा सकें। सभासदगण से अपील कर स्वेच्छा से मेला के दौरान जनसामान्य को निःशुल्क मास्क वितरण के सम्बन्ध में भी प्रयास किया जाय।


रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments