Breaking News

> > >

बलिया से बरामद हुई पश्चिम बंगाल से भागी विवाहिता, प्रेमी के साथ किया कोर्ट मैरिज



बलिया। पश्चिम बंगाल के दार्जलिंग से क्षेत्र के गाजियापुर गांव पहुंची ह्यूमन ट्रैफिकिंग के खिलाफ कार्य करने वाली पुरनेता संस्था की टीम ने ईलाकाई पुलिस की मदद से एक विवाहिता को बरामद कर उसके परिजनों को सौंप दिया। पुलिस के अनुसार बरामद विवाहिता आठ दिन अपने घर से गायब थी।

दार्जलिंग निवासी अंजान राय की पत्नी सुजाता देवी 23 वर्ष सात नवम्बर को घर से अचानक गायब हो गई। उसके बाद उसके पति ने पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दार्जलिंग जिले के गोरुबथान थाने में दर्ज कराई। दार्जलिंग पुलिस अभी विवाहिता की तलाश रही थी कि अचानक पति के पास विवाहिता ने फोन की। लेकिन अपना पता नहीं बता पाई। जिस पर पति ने पुलिस एवं पुरनैता संस्था के पदाधिकारियों को अवगत कराया। संस्था के लोगों ने यूपी के आईपीएस अमिताभ ठाकुर से सम्पर्क किया। जिसका संज्ञान लेते हुए अमिताभ ठाकुर ने एसपी देवेंद्र नाथ से वार्ता की। इसके बाद जनपद की पुलिस एक्शन में आई और सर्विलांस के जरिए विवाहता का लोकेशन ट्रैस किया। इसी बीच सोमवार क्षेत्र में परिजनों के साथ संस्था की टीम भी पहुंच गई थी। इसके बाद टीम के साथ थानाध्य्क्ष आरएस नागर ने मंगलवार को गाजियापुर गांव में दबिश देकर आरोपी धीरज कुमार वर्मा के घर से विवाहिता को बरामद कर उसके परिजनों को सौंप दिया और आरोपी को हिरासत में लेकर थाने आ गये। 

हालांकि पुलिस ने देर शाम आरोपी को छोड़ दिया। उधर चर्चा है कि आरोपी ने विवाहिता से बीते 12 नवम्बर को बलिया में कोर्ट मैरेज भी कर लिया था।

बांसडीहरोड थाना क्षेत्र के गजियापुर निवासी धीरज वर्मा वर्ष 2019 में घर से दार्जलिंग गया था। वहाँ जाकर एक सैलून में नौकरी करने लगा। इसी दौरान उसका विवाहिता के घर अक्सर जाना आना लगा रहा था। बताया गया कि विवाहिता के पति से एक दिन अनबन हो गई। उसके बाद वह धीरज के साथ उसके गांव भाग आई। इस घटना से क्षेत्र में चर्चा का विषय है



रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments