Breaking News

> > >

बिहार का पावर प्ले: NDA को 125 और महागठबंधन को 110 सीटें





पटना:  करीब 18 घंटे की काउंटिंग के बाद बिहार में नतीजों की तस्वीर साफ हो गई। NDA 125 सीटों के साथ सत्ता बचाने में कामयाब रहा, लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाली पार्टी नीतीश कुमार की जदयू ही रही। पिछली बार के मुकाबले जदयू की 28 सीटें घट गईं और वह 43 सीटों पर आ गई। वहीं, भाजपा 21 सीटों के फायदे के साथ 74 सीटों पर पहुंच गई। राजद सबसे बड़ा दल बनकर उभरा, जिसे 75 सीटें मिलीं। उसके नेतृत्व वाले महागठबंधन को 110 सीटें मिलीं।

इससे पहले, रुझानों में NDA ने सुबह साढ़े दस बजे ही बहुमत का आंकड़ा छू लिया था, लेकिन करीब आठ घंटे बाद यानी शाम साढ़े छह बजे के करीब तस्वीर बदल गई। NDA 134 से घटकर 120 पर आ गया। हालांकि, दो घंटे बाद ही उसने फिर 123 सीटों पर बढ़त के साथ रुझानों में बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया। 23 सीटों पर वोटों का मार्जिन दो हजार से कम था, इसलिए NDA की सीटें बहुमत से कम-ज्यादा होती रहीं।

सबसे बड़ा फायदा भाजपा को, सबसे ज्यादा नुकसान जदयू को

पार्टीसीटें (फायदा/नुकसान)
भाजपा74 (+21)
जदयू43 (-28)
हम4 (+3)
VIP4 (+4)
कुल NDA125
राजद75 (-5)
कांग्रेस19 (-8)
भाकपा (माले)12 (+9)
भाकपा2 (+2)
माकपा2 (+2)
कुल महागठबंधन110
अन्य8

नीतीश की शिकायत लिए EC तक पहुंचा राजद
शाम तक आए रुझानों में राजद NDA को बराबरी पर रोकता दिखा। उसे भाजपा के 19.4% के मुकाबले 23.1% वोट मिले। काउंटिंग के दौरान राजद और कांग्रेस के नेता नीतीश कुमार की शिकायत लेकर चुनाव आयोग भी पहुंचे। उनका आरोप था कि नीतीश काउंटिंग को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। उधर, सभी नतीजे घोषित होने से पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के वोटरों को जीत की बधाई दे दी। बोले, ‘बिहार के हर वोटर ने साफ-साफ बता दिया कि उसकी प्राथमिकता सिर्फ और सिर्फ विकास है।

बड़े चेहरों से जुड़े अपडेट्स

  • बिहार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा मुजफ्फरपुर से चुनाव हार गए हैं। उन्हें कांग्रेस के विजेंद्र चौधरी ने हराया। मंत्री सुरेश कुमार शर्मा की हार का बड़ा कारण मुजफ्फरपुर में जलजमाव बना है। कहा जा रहा है कि मंत्री जी को पानी ले डूबा।
  • लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी राघोपुर से आगे हैं। बड़े बेटे तेज प्रताप हसनपुर सीट से जीत गए हैं।
  • मधेपुरा से उम्मीदवार पप्पू यादव तीसरे नंबर पर चल रहे हैं।
  • बिहारीगंज सीट से शरद यादव की बेटी सुभाषिनी हार गईं।
  • बांकीपुर से शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा हार गए। यहां भाजपा के नितिन नवीन जीते।
  • परसा से जदयू के चंद्रिका राय हार गए हैं। इमामगंज से हम प्रत्याशी जीतन राम मांझी जीत गए।
  • VIP के मुकेश सहनी सिमरी बख्तियारपुर सीट पर हार गए।
  • जमुई से भाजपा के टिकट पर पहली बार चुनाव लड़ रही श्रेयसी सिंह ने जीत हासिल की।
  • छातापुर सीट से सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज सिंह बबलू जीत गए।

काउंटिंग से जुड़े अपडेट्स

  • महागठबंधन के नेता EC पहुंचे: कांग्रेस और राजद के नेताओं ने रात करीब 10 बजे नीतीश कुमार पर वोटिंग को प्रभावित करने का आरोप लगाया और इसके बाद इलेक्शन कमीशन के दफ्तर पहुंच गए।
  • राजद ने जीत का दावा किया: तेजस्वी यादव के घर से शाम करीब साढ़े छह बजे कार्यकर्ताओं और पोलिंग एजेंटों को काउंटिंग हॉल में बने रहने का फरमान जारी किया गया। कहा गया कि बिहार ने बदलाव कर दिया है और सरकार महागठबंधन की बनेगी।
  • 18 सीटों पर कांटे की टक्कर: शाम साढ़े पांच बजे 18 सीटों पर वोटों का मार्जिन एक हजार से कम था। इनमें से 9 पर NDA और 8 पर महागठबंधन आगे रहा। 1 सीट पर बसपा आगे थी।
  • 3 बजे तक 44% वोटों की गिनती पूरी: दोपहर 3 बजे तक 4.10 करोड़ वोटों में से 1.8 करोड़ यानी करीब 44% वोटों की गिनती पूरी हो गई। इलेक्शन कमीशन ने कहा कि आमतौर पर 25 से 26 राउंड में काउंटिंग होती है। इस बार हमें 35 राउंड तक काउंटिंग करनी होगी।
  • बिहार में 63% ज्यादा EVM का इस्तेमाल: चुनाव आयोग ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल के चलते इस बार बनाए गए एक्स्ट्रा पोलिंग बूथ्स पर 2015 की तुलना में 63 परसेंट ज्यादा EVM का इस्तेमाल किया गया। इस बार बिहार में 1.06 लाख ईवीएम मशीनों के वोटों की गिनती होनी है।








डेस्क

No comments