Breaking News

मण्डलायुक्त ने गौशाला व क्रय केंद्रों का किया औचक निरीक्षण


- *जिगिरसड व सिकन्दरपुर में देखा गो-आश्रय स्थल, व्यवस्था पर जताया सन्तोष*


- *एफसीआई के केंद्र नगरा पर घटतौली की शिकायत मिलने पर जांच के दिए आदेश*


बलिया: जनपद भ्रमण के दूसरे दिन मंडल आयुक्त विजय विश्वास पंत ने दो गो-आश्रय स्थलों और चार क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान आश्रय स्थलों पर व्यवस्था तो ठीक मिली लेकिन भारतीय खाद्य निगम के एक क्रय केंद्र पर घटतौली की शिकायत प्राप्त हुई। इस पर कमिश्नर ने खरीद अधिकारी एडीएम रामआसरे को निर्देश दिया कि इसकी जांच करें और शिकायत मिलने पर कार्रवाई कर अवगत कराएं।


सबसे पहले कमिश्नर जिगिरसड में बने अस्थाई आश्रय स्थल पर गए। वहां की व्यवस्था का स्थलीय सत्यापन किया। वर्मी कंपोस्ट यूनिट की स्थापना के अलावा जानवरों के चारा और ठंढ में होने वाले प्रबन्ध आदि के संबंध में पूछताछ की। वहां की व्यवस्था ठीक ठाक मिलने के बाद सिकंदरपुर नगर पंचायत द्वारा संचालित अस्थाई गो-आश्रय स्थल पर पहुंचे और जानवरों के लिए उपलब्ध व्यवस्था का निरीक्षण किया।


इसके बाद नगरा में यूपी एग्रो के क्रय केंद्र पर गए। वहां मौजूद किसानों के अलावा कई किसानों को फोन लगाकर बातचीत की। वह मौके पर कोई लैपटॉप या कंप्यूटर नहीं मिलने पर फीडिंग के बारे में पूछा तो पता चला कि वहां तत्काल फीडिंग नहीं हो पाती है। इस पर कमिश्नर ने कहा कि फीडिंग तत्काल हो और भुगतान की कार्रवाई भी जल्दी से हो। नगरा में ही हॉट शाखा पर गए, जहां काफी संख्या में किसान थे। लेकिन कॉल के लिए मात्र तीन कांटे थे। वहां किसानों की भीड़ को देखते हुए उन्होंने तौल कांटे को बढ़ाने का निर्देश दिया। भारतीय खाद्य निगम के क्रय केंद्र पर गए तो पाया कि 24 दिसंबर तक का ही भुगतान हो पाया है। इसके बाद के किसानों का भुगतान नहीं होने की वजह पूछी। वह किसानों ने घटतौली की समस्या बताई, जिसकी जांच करने व दोषी मिलने पर कार्रवाई कर अवगत कराने का निर्देश एडीएम रामआसरे को दिया। इस दौरान सदर तहसीलदार गुलाब चंद्रा भी उनके साथ थे।



रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments