Breaking News

डीआईजी ने पुलिस चौकी परिसर में किया आरओ वाटर प्लांट का उद्घाटन


रतसर (बलिया) गांवों में आज भी 70 प्रतिशत लोग निवास करते है। इनमें से बहुतों को शुद्ध पीने योग्य पानी नही मिल पाता है। यदि पीने के लिए स्वच्छ पानी न मिले तो तरह-तरह की बीमारियों से फैलने के आसार रहते है।  अगर लोगों को पीने योग्य शुद्ध पानी मिले तो बहुत से जलजनित रोगों से बचा जा सकता है। उक्त बातें आजमगढ परिक्षेत्र के डीआईजी सुबाष चन्द्र दूबे ने मंगलवार को स्थानीय पुलिस चौकी परिसर में ग्राम निधि द्वारा 3.5 लाख की निधि से एक हजार लीटर क्षमता के आरओ वाटर प्लांट के उद्घाटन के अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए कहीं। इसके पूर्व डीआईजी द्वारा पुलिस अधीक्षक बलिया विपिन टाडा एवं ग्राम प्रधान स्मृति सिंह द्वारा संयुक्त रूप से आरओ वाटर प्लांट का उद्घाटन फीता काटकर किया गया। इस मौके पर प्रेस प्रतिनिधियों द्वारा रिपोर्टिग पुलिस चौकी को थाना बनाए जाने  के सवाल पर उन्होंने बताया कि थाना बनाने की एक प्रक्रिया होती है। तय मानकों के आधार पर शासन द्वारा इसकी स्वीकृति मिलती है। यदि पूर्व में इसको थाना बनाने  की प्रक्रिया शासन को भेजी गई होगी तो मेरे द्वारा इस मुद्दे पर सार्थक पहल किया जाएगा। इस अवसर पर डीआईजी सुबाष दूबे व पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा द्वारा वहां मौजुद पत्रकारों को अंग वस्त्रम् से सम्मानित किया गया। इस मौके पर क्षेत्राधिकारी अरूण कुमार सिंह, एसओ गड़वार राजीव सिंह, चौकी प्रभारी रामअवध, भानू प्रताप सिंह "बबलू", अक्शा फाउंडेन्सन की सचिव दीप्ती सिंह, मुक्तानन्द सिंह, उपेन्द्र पाण्डेय "खुटूर", लोकेश पाण्डेय, अरविन्द गुप्ता, अजीत गुप्ता, कमालुद्दीन, संजय शर्मा सहित क्षेत्र के गणमान्य लोग मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments