Breaking News

कुष्ठ रोग से डरे नही, इनके साथ मानवता पूर्ण व्यवहार करे : डा०एस.के. तिवारी


रतसर, बलिया : जिला कुष्ठ अधिकारी डा० एस.के.तिवारी की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला कुष्ठ अधिकारी कार्यालय पर राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन समीक्षा बैठक में कुष्ठ रोगी खोजी अभियान पर चर्चा की गई। बैठक को संबोधित करते हुए समाज को कुष्ठ मुक्त बनाने का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत राज्य स्तर से मिली गाइड लाइन के अनुसार जनपद के उन सभी गांवों का सर्वेक्षण कराना है जहां एक भी कुष्ठ मरीज मिले हो। इसके लिए विस्तृत रूपरेखा तैयार कर ली गई है। इस सर्वे कार्य में संबन्धित गांव की प्रशिक्षित आशा एवं एक प्रशिक्षत पुरुष कार्यकर्ता काम करेगें जो दो वर्ष से उपर के सभी व्यक्तियों की स्क्रीनिंग कर पीड़ित होने की दशा में नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर भेजेगें। वहां पर रोगियों का इलाज किया जाएगा। उन्होनें बताया कि चमड़ी पर हल्के रंग का समतल या उभरा हुआ होना, दाग में सुनापन, चकत्ता जिसमें पसीना न आता हो, नसों का फुलना, झनझनाहट, हाथ पैर के तलवे में सुनापन, चेहरा शरीर एवं कान पर गांठ, घाव जो इलाज के बाद ठीक ना हो, उंगली का टेढ़ापन होने की दशा में रोगी अस्पताल पहुंचकर इलाज करा सकेगें। उन्होनें बताया कि कुष्ठ रोग से डरे नहीं, इनके साथ मानवता पूर्ण इलाज करे। इलाज में देरी से विकलांगता की शिकायत हो सकती है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments