Breaking News

ट्रेन से गिरकर युवक की मौत, शव ले आने के लिए विधायक ने भेजा निजी वाहन


बेल्थरारोड,बलिया। नगरा थाना क्षेत्र के खैरा निस्फी गांव के 32 वर्षीय युवक की मौत ट्रेन से पैर फिसल कर नीचे गिर जाने से हो गई। युवक की मौत की खबर जैसे ही परिजनों को मिली, घर में कोहराम मच गया। परिजनों के गुहार पर रसड़ा विधायक उमाशंकर सिंह युवक का शव ले आने के लिए निजी वाहन रुड़की भेजे है।

            नगरा थाना क्षेत्र के खैरा निस्फी निवासी संतोष कुमार राजभर हिमाचल प्रदेश के मोहाली में प्राइवेट कम्पनी में काम करता था। वह ट्रेन से घर आ रहा था। मंगलवार को सुबह चुड़ियाला स्टेशन के समीप जब ट्रेन पहुंची थी, तभी युवक का पैर ट्रेन से फिसल गया और वह नीचे गिर गया। गम्भीर चोट लगने के कारण युवक की मौके पर ही मौत हो गई। युवक की मौत की सूचना आरपीएफ ने घर वालो को दी। सूचना मिलते ही परिजनों सहित गांव में शोक छा गया। युवक की मौत की सूचना मिलते ही विधायक उमाशंकर सिंह मृतक के घर पहुंचकर संवेदना व्यक्त किए तथा परिजनों के गुहार पर मृतक का शव ले आने के लिए निजी वाहन सिविल अस्पताल रुड़की, हरिद्वार भेजें। मृतक अपने पीछे पत्नी लालशा,7 वर्षीय पुत्री आकृति व 3 वर्षीय पुत्र अर्पित को छोड़ गया है।नगरा। थाना क्षेत्र के खैरा निस्फी गांव के 32 वर्षीय युवक की मौत ट्रेन से पैर फिसल कर नीचे गिर जाने से हो गई। युवक की मौत की खबर जैसे ही परिजनों को मिली, घर में कोहराम मच गया। परिजनों के गुहार पर रसड़ा विधायक उमाशंकर सिंह युवक का शव ले आने के लिए निजी वाहन रुड़की भेजे है।

            नगरा थाना क्षेत्र के खैरा निस्फी निवासी संतोष कुमार राजभर हिमाचल प्रदेश के मोहाली में प्राइवेट कम्पनी में काम करता था। वह ट्रेन से घर आ रहा था। मंगलवार को सुबह चुड़ियाला स्टेशन के समीप जब ट्रेन पहुंची थी, तभी युवक का पैर ट्रेन से फिसल गया और वह नीचे गिर गया। गम्भीर चोट लगने के कारण युवक की मौके पर ही मौत हो गई। युवक की मौत की सूचना आरपीएफ ने घर वालो को दी। सूचना मिलते ही परिजनों सहित गांव में शोक छा गया। युवक की मौत की सूचना मिलते ही विधायक उमाशंकर सिंह मृतक के घर पहुंचकर संवेदना व्यक्त किए तथा परिजनों के गुहार पर मृतक का शव ले आने के लिए निजी वाहन सिविल अस्पताल रुड़की, हरिद्वार भेजें है। मृतक अपने पीछे पत्नी लालशा,7 वर्षीय पुत्री आकृति व 3 वर्षीय पुत्र अर्पित को छोड़ गया है।

                                  


रिपोर्ट संतोष द्विवेदी

No comments