Breaking News

> > >

जन चौपाल के दौरान आवास के नाम पर 25 हजार रुपए लेने पर मन्त्री बिफरे,सम्बन्धित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने का दिया निर्देश

 



पात्र व्यक्ति के जांच के नाम पर आवास सूची में नाम कटने पर जांच अधिकारी के उपर ही जांच बैठाने का दिया निर्देश



रतसर (बलिया) राज्य मन्त्री स्वतन्त्र प्रभार उपेन्द्र तिवारी द्वारा गड़वार क्षेत्र के सिकटौटी (चाफी) गांव में जन चौपाल के दौरान अधिकारियों की जमकर फटकार लगाई गई। उन्होंने कहा कि शिकायत है कि योजनाओं का लाभ लाभार्थियों तक नही पहुंचाया जा रहा है। हर हाल में एक सप्ताह के अन्दर उन्हें योजनाओं का लाभ दिया जाए। राज्यमन्त्री शनिवार को "आपकी सरकार, जनता के द्वार" कार्यक्रम के तहत गांव-गांव, घर-घर पदयात्रा के क्रम में कोड़रा, एकडेरवा,कोठियां,अरईपुर, तपनी, जगदेवपुर, मसहां गांव में केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दी। देर शाम सिकटौटी गांव स्थित चाफी पुरवा के प्राथमिक विद्यालय परिसर में आयोजित जन चौपाल में पात्र लोगों को शौचालय, आवास तथा पेंशन न बनने की शिकायत पर सम्बन्धित अधिकारियों की फटकार लगाई। 




कहा कि सरकार की जनकल्याण कारी योजनाएं प्रत्येक पात्रों तक पहुंचाना उनकी प्राथमिकता है। चौपाल में चकरोड निर्माण के लिए भूमि की पैमाइश का मुद्दा ग्रामीणों ने उठाया तो मौके पर राजस्व निरीक्षक और लेखपाल को तलब किया। चौपाल में लेखपाल के अनुपस्थित रहने पर दो दिनों के अन्दर स्पष्टीकरण लेकर आख्या प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। वहीं गांव की ही महिला संगीता देवी एवं कुन्ती देवी ने आवास के नाम पर पच्चीस हजार रुपए तथा शौचालय निर्माण में दो हजार रुपए बिचौलिए को देने की बात कही। महिलाओं ने बताया कि हम लोगों ने ब्याज पर कर्ज लेकर गांव के ही एक व्यक्ति आवास के लिए पैसे दिए थे। आज तक न आवास ही मिला और न ही पैसा लौटाया गया। इस पर मन्त्री बिफर पड़े और तत्काल थाना प्रभारी को मुकदमा दर्ज कर सम्बन्धित व्यक्ति को जेल भेजने का निर्देश दिया। कुछ पात्र महिलाओं के आवास की सूची में जांच के नाम पर आवास कटने की बात कही। इस पर मन्त्री ने जांच अधिकारी के उपर ही एडीपीआरओ से जांच कर आख्या प्रस्तुत करने को कहा। वोटर लिस्ट में नाम कटने का मुद्दा ग्रामीणों ने उठाया। इस पर सम्बन्धित अधिकारियों से जांच कर वोटर लिस्ट को दुरुस्त करने का निर्देश दिया। सफाई कर्मियों को गांव में न आने की शिकायत पर एडीओ पंचायत को फटकार लगाते हुए एक सप्ताह के अन्दर रिपोर्ट तलब करने निर्देश दिया। वहीं स्वास्थ्य विभाग से जुड़े गोल्डन कार्ड एवं समुचित स्वास्थ्य सेवाओं पर ग्रामीणों ने संतोष जाहिर किया। इस पर मन्त्री ने सीएचसी प्रभारी की तारीफ करते हुए सराहना की। भाजपा उपाध्यक्ष उपेन्द्र पाण्डेय द्वारा नहर में टेल तक पानी न पहुंचने का मुद्दा उठाया। इस पर नहर विभाग के एई ने 24 घंटे के अन्दर नहर में पानी छोड़े जाने का आश्वासन दिया। इस दौरान जन चौपाल में टुनटुन उपाध्याय, पिन्टू पाठक, डा० मदन राजभर,उमेश सिंह, कृपाशंकर तिवारी, मनोज पाण्डेय, अखिलेश तिवारी, राजेन्द्र तिवारी मौजुद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments