Breaking News

खपड़िया बाबा आश्रम में श्री महारुद्र द्वय महायज्ञ के विशाल भण्डारें में 40 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने किया प्रसाद ग्रहण

 


बैरिया ( बलिया) । संकीर्तन नगर स्थित श्री महारुद्र द्वय महायज्ञ का विशाल भण्डारा बृहस्पतिवार को सम्पन्न हुआ । भण्डारे में हजारों हजारों लोगों ने किया प्रसाद ग्रहण ।उल्लेखनीय है कि हर वर्ष की भाँति सन्त शिरोमणी श्री श्री 1008 श्री मुनीश्वरा नन्द जी उर्फ खपड़िया बाबा की 36 वें निर्वाण दिवस पर संकीर्तन नगर आश्रम में उनके कृपा पात्र शिष्य व देश के महान  संत स्वामी हरिहरानंद जी ने नेतृत्व में 13 दिवसीय महायज्ञ सम्पन्न हुआ । महायज्ञ के समापन पर श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुऐ पूज्य स्वामी हरिहरानंद जी ने कहा कि श्री खपड़िया बाबा ने अपने कठोर तप साधना के चलते सिद्धि पाई थी । उनके वैदिक एवं धर्म मार्गी जीवन की अनेक गाथाएं है । स्वामी जी ने कहा श्री खपड़िया बाबा की तप साधना से जन मानस का बहुत कल्याण हुआ । बाबा ने जहाँ-जहाँ तप साधना की आज वह स्थान सिद्व पीठ है , जहाँ के दर्शन करने से मनुष्य के सभी दुःख और संताप समाप्त हो जाते है । बाबा ने बेद में वर्णित 16 अक्षरों का संकीर्तन महामंत्र दिया है जिसके सहारे व्यक्ति अपने दैहिक , दैविक और भौतिक संतापों से पार पाया जा सकता है । उन्होंने कहा कि भगवन्नाम संकीर्तन ही एक मात्र कलियुग में मुक्ति का आधार है , व्यक्ति इसके द्वारा अपने हर इच्छाओं का पूर्ति कर सकता है । 

महायज्ञ का विशाल भण्डारा में प्रातः 10 बजे से प्रारम्भ होकर दे रात्रि तक चलता रहा । भण्डारे में महिलाओं और पुरुषों की अलग-अलग पंक्ति बनाया गया था जहाँ बैठ कर हजारों महिला-पुरुष श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया । प्रसाद प्राप्ति के लिए उमड़े विशाल जन सैलाब को आश्रम के कार्यकर्ता अलग-अलग जगहों पर खड़े होकर  भीड़ को नियंत्रण करते रहे । प्रातः से ही कार्यकर्ता श्री खपड़िया बाबा की जय और श्री हरिहरानंद जी महाराज की जयकारे के साथ दिन भर डटे रहे बुंदिया,पुड़ी और सब्जियां बन-बन कर ट्रैक्टर टालियो पर भरा जाता रहा और लगभग 40 हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया ।

   कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शंकर दास जी, अमर दास जी , कन्हैया सिंह , धर्मबीर उपाध्याय, जितेंद्र उपाध्याय, महेंद्र सोनी, धर्मपाल सोनी, घनश्याम तिवारी,पीयूष यादव , रंजय यादव, आनन्द द्विवेदी,शैलेश सिंह,अरविन्द सिंह, बबलू सिंह, संतोष सोनी, राणा सिंह, मैनेजर यादव,संतोष सिंह तथा महिलाओं की अध्यक्षा बहन कलावती जी का योगदान प्रमुख रहा । 

        विशाल भीड़ को नियंत्रण करने हेतु बैरिया कोतवाल संजय त्रिपाठी व दोकटी थानाध्यक्ष अमित सिंह महिला कांस्टेबल सहित भारी फोर्स के साथ दिन भर डटे रहे ।



रिपोर्ट : वी चौबे

No comments