Breaking News

> > >

जननायक चंद्रशेखर विश्विद्यालय में भोजपुरी संगीत विभाग का नाम वीरेन्द्र सिंह 'धुरान' के नाम पर रखने सहित उठी यह मांग


बलिया : वीरेन्द्र सिंह 'धुरान' लोक सांस्कृतिक सेवा संस्थान बसन्तपुर (बलिया) की एक आवश्यक बैठक 'धुरान' जी के आवास पर व्यास तारकेश्वर ठाकुर की अध्यक्षता में हुईं। बैठक में सर्व सम्मति से यह हुआ कि जननायक चंद्रशेखर विश्विद्यालय बसन्तपुर बलिया में भोजपुरी संगीत विभाग का नाम वीरेन्द्र सिंह 'धुरान' जी के नाम पर रखने तथा विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में 'धुरान' जी को सामिल किया जाए। साथ ही साथ 'धुरान' जी के नाम पर एक रोड का नाम रखकर उनकी आदमकद प्रतिमा किसी सार्वजनिक स्थान पर लगाने की अनुमति दिया जाए। भोजपुरी गायन अब 'धुरान' जी के गायन की तरह स्वच्छ एवं पारदर्शी नही रह गया है और स्वच्छ नारदीय गायन तो अब विलुप्त के कगार पर है इस पर भी मंथन हुआ और संस्था के अध्यक्ष निर्भय सिंह ने इस समस्या पर प्रदेश के सभी भोजपुरी भाषी राजनेता व बुद्धिजीवी लोगो को आगे आने का निवेदन किया। बैठक में अनुज सिंह, अजय प्रताप सिंह, विनायक शरण सिंह, नीरज पाण्डेय (लड्डू बाबा), मुक्तेश्वर दुबे, सुभाष राम, उपेंद्र सिंह, राकेश सिंह, उपेंद्र यादव, ध्रुव नारायण सिंह, सुरेंद्र सिंह आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। संचालन बृजमोहन प्रसाद 'अनाड़ी' ने किया। कुछ सदस्यो ने अपने उपस्थिति फोन द्वारा दर्ज कराई जिसमे डॉo जनार्दन राय, अजीत मिश्रा, ईश्वरदत्त पांडेय, अम्बूज सिंह, आशुतोष सिंह ।



रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments