Breaking News

Akhand Bharat

विपरीत परिस्थितियों में एनसीसी कैडेट्स ने साबित की है अपनी उपयोगिता



- *93 यूपी बटालियन एनसीसी का तीन दिवसीय कैंप के समापन कार्यक्रम में बोले जिलाधिकारी


रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलियाः 93 यूपी बटालियन एनसीसी का तीन दिवसीय संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर का समापन टाउन पाॅलिटेक्निक मैदान में हुआ। इस अवसर पर गुरूवार को जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही अपनी पत्नी पूनम शाही व बच्चों के साथ कैंप में पहुंचे और सभी कैडेट्स का उत्साह बढ़ाया। इस कैंप में ड्रिल, फायरिंग, आॅफ्टिकल ट्रेनिंग के साथ ‘बी‘ व ‘सी‘ परीक्षा का सिलेबस भी तैयार कराया गया।

सभी कैडेट्स का उत्साहवर्धन करते हुए जिलाधिकारी श्री शाही ने कहा कि एनसीसी ट्रेनिंग सैन्य प्रशिक्षण का ही एक हिस्सा होता है। किसी भी अभियान में अनुशासन व एकजुट होकर कैसे सफल होंगे, ट्रेनिंग में इसकी सीख मिलती है। किसी भी प्रकार की विपरीत परिस्थिति में भी एनसीसी कैडेट्स काफी उपयोगी होते हैं। उन्होंने कोरोना काल में भोजन वितरण से लेकर बैंकों में लाईन लगाने व अन्य बहुपयोगी कार्यों के जरिए अपने महत्व को साबित भी कर दिया है। देशसेवा की भावना इनमें कूट-कूट कर भरी होती है। इससे पहले कैंप के क्वार्टर गार्ड का निरीक्षण करते हुए सभी कैडेट्स से परिचय प्राप्त किया। इस अवसर पर कैंप कमांडेंट कर्नल डीएस मलिक, डिप्टी कैंप कमांडेंट ले.कर्नल एसएन राय, एसोसिएट एनसीसी आॅफिसर मेजर धनन्जय सिंह, मेजर सत्येंद्र पांडेय, ले. अजय प्रताप, ले. रविशंकर पासवान व समस्त एनसीसी स्टाॅफ मौजूद थे।

No comments