Breaking News

भारतीय संस्कृति से ही राष्ट्र का नवनिर्माण संभव :-डा० राजेश्वर



दुबहर, बलिया : क्षेत्र के शहीद मंगल पांडेय राजकीय महिला महाविद्यालय में  राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय , विशेष शिविर के समापन के अवसर पर विभिन कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी कुलदीप दुबे व प्राचार्य  डा० राजेश्वर कुमार ने माँ सरस्वती के चित्र व मंगल पांडेय के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित करके किया। 

स्वाति ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। इसके पूर्व आगत अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया।  महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम प्रभारी डॉ०शिवेंद्र नाथ दुबे ने  बिगत सात दिनों में किये गए कार्यों की संछिप्त जानकारी दी तत्पश्चात छात्राओ ने अपने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये।  मुख्य अतिथि समाजसेवी कुलदीप दुबे ने  स्वच्छता, जल संरक्षण, महिला सुरक्षा आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा किया।

उन्होंने कहा कि युवाशक्‍ित के व्‍यक्‍तित्‍व विकास हेतु राष्ट्रीय सेवा योजना सरकार द्वारा संचालित एक सक्रिय कार्यक्रम है। 

 डॉ० शिवेश राय ने पर्यावरण जागरूकता पर बोलते हुए कहा की सभी को प्रकृति की रक्षा को अपना धर्म एवं कर्म बनाना होगा आज प्रकृति के संरक्षण की नितांत आवश्यकता है। 

महाविद्यालय के प्राचार्य  डॉक्टर राजेश्वर ने कहा कि आज युवाओं को स्वामी विवेकानंद जी के जीवन चरित्र से यह सीख लेनी चाहिए कि  राष्ट्र निर्माण एवं देश की प्रतिष्ठा से बढ़कर के युवाओं के लिए कुछ भी नहीं होना चाहिए।  कहा कि नौजवानों को अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल राष्ट्र के नवनिर्माण में लगाने की आवश्यकता है।

तत्पश्चात परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के निर्देशानुसार राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा के तहत एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 

इस मौके पर प्रमुख रूप से लाली ठाकुर ,जूही सिंह, दीक्षा, अंशु, मांडवी मिश्रा ,रिचा पाठक, विशाखा ,प्रीति पाठक, दीक्षा, अंशु, पल्लवी पाठक, मृदुल पांडे, शालू राजभर आदि लोग रहे। संचालन महाविद्यालय की छात्रा सांची दुबे ने किया।



रिपोर्ट:-नितेश पाठक

No comments