Breaking News

बलिया में रेल पटरियों पर दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, आल इज ओके



बलिया : रेलवे प्रशासन द्वारा यात्री सुविधाओं के उन्नयन एवं परिचालन सुगमता हेतु मूलभूत ढ़ांचे में विस्तार के क्रम में पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल में बलिया- फेफना ( 10 किमी.) रेल खण्ड का विद्युतकृत लाइन के साथ दोहरीकरण  पूरा हुआ।  छपरा-औड़िहार रेल खण्ड की दोहरीकरण परियोजना के अंतर्गत बलिया -फेफना के मध्य नवनिर्मित दूसरी विद्युतीकृत लाइन का रेल संरक्षा आयुक्त,पूर्वी परिक्षेत्र, लखनऊ मोहम्मद  लतीफ  खान द्वारा संरक्षा परिक्षण संपन्न होने के पश्चात् बुधवार को स्पीड ट्रायल किया गया । निरीक्षण के दौरान पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) आर.के.यादव, मंडल रेल प्रबन्धक, वाराणसी विजय कुमार पंजियार,  मुख्य विद्युत इंजीनियर संतोष बैरवा ,मुख्य इंजीनियर निर्माण आशुतोष मिश्रा,मुख्य विद्युत डिजाइन इंजीनियर आर.के.गुप्ता समेत उप मुख्य संरक्षा अधिकारी बी.के.शर्मा उपस्थित थे।

रेल संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान ने सबसे पहले फेफना रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया और  दोहरीकरण सह विद्युतीकृत रेल खण्ड के मानक के अनुरूप यार्ड प्लान, इंटरलॉकिंग स्टैण्डर्ड, ब्लाक यन्त्र,स्टेशन वर्किंग रूल,केंद्रीकृत स्टेशन पैनल, पैदल उपरिगामी पुल,प्लेटफार्म क्लियरेंस, पॉइंट क्रासिंग, सिगनल स्थापन ,बर्थिंग ट्रैक बैलास्ट,ओवर हेड ट्रैक्शन की ऊँचाई ,सिगनल ओवर लैप,फाउलिंग मार्क, सैंड हम्प ,पैनल इन्टरलॉकिंग, फीडर पावर सप्लाई वितरण प्रणाली तथा नियंत्रण  फीडर आइसोलेशन आदि की संरक्षा परखी । फेफना स्टेशन पर रेल संरक्षा आयुक्त ने  दोहरीकरण एवं विधुतीकरण के मुताबिक विकसित विभिन्न कार्यो का निरीक्षण में सभी कार्य मानक के अनुरूप पाया ।  

तदुपरान्त  रेल संरक्षा आयुक्त द्वारा विद्युत चालित सी आर एस स्पेशल से नई लाइन पर स्पीड ट्रायल किया स्पेशल गाड़ी फेफना से 17:50 में खुली और 18:05 पर बलिया पहुँची । सीआरएस  स्पेशल ने स्पीड ट्रायल में अधिकतम 110किमी प्रतिघंटा गति को छुआ।



रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments