Breaking News

बैंक कर्मियों ने किया निजीकरण का विरोध, निकाला कैंडिल मार्च


रतसर (बलिया) बैंक कर्मचारी-अधिकारी संगठनों ने केन्द्र द्वारा निजीकरण की योजना के विरोध में शनिवार की देर रात बैंक आफ इण्डिया के परिसर में विरोध प्रदर्शन कर नारेबाजी की। बैंक आफ इंडिया के शाखा प्रबन्धक प्रमोद कुमार पाण्डेय ने बताया कि सरकारी बैंक के सामने एकमात्र समस्या खराब कर्ज की है जो अधिकांश कारपोरेट और अमीर उद्योगपतियों द्वारा लिए जाते है। सरकार उन पर कार्यवायी के बजाय बैंको का निजीकरण करना चाहती है। उन्होंने कहा कि हम लोग 10 मार्च को बजट सत्र के दौरान संसद के सामने धरना प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद 15 -16 मार्च को बैंको के दस लाख कर्मचारी और अधिकारी दो दिन की हड़ताल करेंगे, अगर सरकार अपने फैसले पर आगे बढ़ती है तो हम आंदोलन तेज करेंगे और लम्बे समय तक हड़ताल और अनिश्चित कालीन हड़ताल करेंगे। हम मांग करते है कि सरकार अपने फैसले पर फिर विचार करे। इस अवसर पर मनोज सिंह, बंटी सिंह, झब्बर सिंह, मुन्ना चौरसिया, कपूर चन्द आदि रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments