Breaking News

चोरी की घटना का 5 घंटे में ही पर्दाफाश, चोरी का माल बरामद पांच गिरफ्तार



रिपोर्ट : धीरज सिंह

बलिया : नगरा पुलिस द्वारा चोरी की घटना का महज 5 घंटे में सफल अनावरण करते हुए घटना में चोरी हुए माल की बरामदगी करते हुए संबंधित 05 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया ।

पुलिस अधीक्षक महोदय बलिया के कुशल निर्देशन में व अपर पुलिस अधीक्षक बलिया के सफल पर्यवेक्षन व क्षेत्राधिकारी रसड़ा के कुशल नेतृत्व में अपराध एंव अपराधियों की रोकथाम हेतु चलाए जा रहे अभियान के क्रम में थाना नगरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता ।

दिनांक 14.03.2021 को वादी ओमप्रकाश सिंह पुत्र स्व रामप्रसाद सिंह ग्राम खनवर नवादा थाना नगरा बलिया द्वारा प्रा0 पत्र दिया गया कि दिनांक 08.03.21 को स्वयं के घर मे चोरी हुई है, उक्त के संबंध में मु.अ.स. 33/21  धारा 380 ipc का अभियोग पंजीकृत किया गया। विवेचना व चोरी गया माल बरामदगी व मुल्जिमान की गिरफ्तारी के क्रम में आवश्यक नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही करते हुए महज 5 घंटे में थानाध्यक्ष नगरा दिनेश पाठक मय हमराही फोर्स द्वारा मुखबिर की सूचना पर खनवर मोड़  के पास  से  05 अभियुक्तों 1. गनेश यादव पुत्र हनुमान यादव निवासी खनवर नवादा थाना नगरा जनपद बलिया 2. बलवन्त पुत्र गनेश निवासी खनवर नवादा थाना नगरा जनपद बलिया 3. सुनील उर्फ छोटू पुत्र गनेश निवासी खनवर नवादा थाना नगरा जनपद बलिया 4. देवनाथ यादव पुत्र सरदार यादव निवासी बछईपुर थाना नगरा जनपद बलिया 5. मोहन पुत्र अनील कुमार निवासी सरयाबगडौरा थाना नगरा जनपद बलिया को चोरी के सोने की अंगुठी, सफेद धातु का सिक्का, पायल, मोबाइल, हेड फोन, व नकद रूपयों के साथ गिरफ्तार किया गया ।

 अभियुक्तों ने कड़ाई से पूछताछ में बताया कि हम लोगो ने मिलकर दिनांक 08.03.2021 को मेरे ही गांव(खनवर) के ओमप्रकाश सिंह व उनकी पत्नी दोनो लोग दोपहर में बलिया चले गये तो उनके घर में दिन में ही घुसकर  01 अदद सोने की अंगूठी बड़ी आयताकार , 01 अंगूठी, 01 अदद सफेद धातु का सिक्का , 02 हेड फोन, 01 अदद मोबाईल व पायल  चुरा लिये।  चोरी किये आभूषणों को सोनार मोहन पुत्र अनील कुमार सा.सरयां बगडौरा थाना नगरा जनपद बलिया के बछईपुर चट्टी पर स्थित दुकान पर ले जाकर बेचा गया तथा बेचने के बाद जो पैसा मिला उसका हम लोगों ने आपस में बराबर – बराबर बंटवारा कर लिया । जो माल हम लोगों से बरामद हुआ वह उसी बंटवारे से व बटवारे में प्राप्त रूपयों से खरीदा हुआ है तथा कुछ रूपये जो बेचने के बाद मिलें थे  खर्च हो गये। 


No comments