Breaking News

इच्छाशक्ति, धैर्य और समर्पण किसी भी टीम को चैम्पियन बना सकती है: पूर्व कमिश्नर विद्याशंकर पाण्डेय


रतसर (बलिया) जयहिन्द क्रिकेट क्लब बाराबांध के तत्वाधान में आयोजित बी पी एल रात्रिकालीन क्रिकेट प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में यंग स्टार क्रिकेट क्लब पचखोरा ने रोमांचक मुकाबले में विश्वकर बाबा क्रिकेट क्लब दामोदरपुर को 6 रनों से पराजित करते हुए ट्रॉफी अपने नाम कर ली। शुक्रवार की रात खेले गये फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए पचखोरा की टीम निर्धारित 12 ओवरों में 54 रन ही बना सकी । पचखोरा टीम के बल्लेबाज वायरस व सोनू का स्कोर ही दोहरे अंकों में पहुंचा जहां वायरस ने 4 चौको की मदद से 26 रन बनाया। वहीं सोनू ने 13 रनों का योगदान दिया ।दामोदरपुर के गेंदबाज टाइगर ने धारदार गेंदबाजी करते हुए 2 ओवर मे 8 रन देकर 4 विकेट चटके। लक्ष्य का पीछा करने उतरे दामोदरपुर के बल्लेबाज भी कुछ खास नही कर पाये और एक एक कर पवेलियन लौटते गये और इस कड़े मुकाबले के अंतिम ओवर के आखिरी गेंद पर आल आउट होते हुए मुकाबला 6 रनों से गंवा बैठे । पचखोरा टीम के खिलाड़ी  वायरस ने गेंदबाजी में भी दम दिखाया और 3 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई । वायरस को उसके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन आफ द मैच और मैन आफ द सीरीज का पुरस्कार दिया गया। इसके पूर्व प्रतियोगिता के मुख्य अतिथि रिटायर्ड कमिश्नर विद्याशंकर पाण्डेय और समाजसेवी अमित सिंह कल्लू ने संयुक्त रूप से फीता काटकर मैच का उद्घाटन किया। इस अवसर पर विद्याशंकर पाण्डेय ने कहा कि दृढ़ इच्छाशक्ति धैर्य और समर्पण किसी भी टीम को चैम्पियन बना देती है इसलिए खिलाड़ियों को धैर्य और समर्पण के साथ खेल में प्रतिभाग करना चाहिए।पुरस्कार वितरित करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव कन्हैया पाण्डेय ने कहा कि इस तरह के शानदार आयोजन करने वाली कमेटियों के उत्साहबर्धन के लिए जनप्रतिनिधियों को आगे आना चाहिए। इस अवसर पर प्रमुख समाजसेवी पवन सिंह, सपा नेता अजय शंकर यादव , मशहूर चिकित्सक डॉ रंजन स्वामी, मुखिया पाण्डेय, विद्या शंकर तिवारी आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे। इस आयोजन में आशुतोष यादव, नितेश, संदीप, टिंकू, पवन, अनीश और गणेश की भूमिका काफी सराहनीय रही। मैच के अम्पायर जग्गू सिंह और हीरा लाल यादव रहे जबकि स्कोरर का दायित्व बिट्टू पाण्डेय ने निभाया ।कमेटी के कोषाध्यक्ष आशुतोष यादव ने सबके प्रति आभार व्यक्त किया।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments