Breaking News

नौकरी मांगने की जगह नौकरी देने वाला बनने का प्रयास करना चाहिए : स्वामी अनन्तानन्द सरस्वती


रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलिया । काशी स्थित राजगुरू मठ के स्वामी अनन्तानन्द सरस्वती ने ब्राह्मणों को चिंतन करने वाला समाज बताया। उन्होंने ब्राह्मण समाज को स्वरोजगार अपनाने का आह्वान किया। मंगलवार को देवकली में बाबा परशुराम वाहिनी द्वारा आयोजित होली मिलन समारोह में बोल रहे थे।

पौराणिक ऐतिहासिक उदाहरण देते हुए स्वामी अनन्तानन्द ने कहा कि ब्राह्मण समाज सदियों से देश की रक्षा करता आया है। आज उसे स्वयं की भी रक्षा करनी है। इस समाज के लोगों को अपनी चिंतनशीलता नहीं छोड़नी चाहिए। उन्होंने ब्राम्हणों को स्वरोजगार की तरफ उन्मुख होने की नसीहत देते हुए कहा कि यह आज समय की मांग है।



नौकरी मांगने की जगह नौकरी देने वाला बनने का प्रयास करना चाहिए। इसके पहले दीप प्रज्वलित कर होली मिलन समारोह का स्वामी अनन्तानन्द ने उद्घाटन किया। उन्होंने सबको अबीर-गुलाल लगाकर आशीर्वाद दिया।



उक्त मौके संजीव कुमार को भगवान परशुराम की स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर डा. मंजीत राय, राहुल मिश्रा, जयेश मिश्रा, अवनीश पाण्डेय, दयाशंकर राय, चंदन पाण्डेय आदि थे। संचालन प्रधान मुन्ना राय ने किया।

No comments