Breaking News

Akhand Bharat

चुनाव आयोग और सरकार मतगणना में धांधली करने के फिराक में है : अनूप पांडेय

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह

बलिया : उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग ने सभी त्रिस्तरीय पंचायत के प्रत्याशियों को फरमान सुनाया है कि मतगणना में वही जा सकता है जिसका कोविड 19 की जांच नीगेटिव होंगी. जिसकी जांच पाजेटिव होगी उसे नहीं जा ने दिया जायेगा। जांच रिपोर्ट 72 घंटे के अंदर की मान्य होगी.

उक्त जानकारी देते हुए उत्तर प्रदेश आम आदमी पार्टी के सह प्रभारी अनूप पांडेय ने कहा कि अब सरकार मतगणना स्थल पर प्रत्याशियों को रोकने की कोशिश में लग गयी है। यह सरकार की साज़िश का हिस्सा है। सनद रहे कि चुनाव के पूर्व आरक्षित और अनारक्षित के चक्कर में लोगों को परेशान किया गया। प्रदेश सरकार और चुनाव आयोग की नीतियों के कारण आज कोरोना जांच के चक्कर में प्रत्याशी और उनके प्रतिनिधि परेशान हैं

श्री पांडेय ने उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग यह मांग की है कि मतगणना को पारदर्शिता के लिए सभी प्रत्याशियों की कोविड 19 की जांच की व्यवस्था को निःशुल्क सुनिश्चित करें। अन्यथा यह माना जाएगा कि चुनाव आयोग सरकार से मिल कर जानबूझकर मनमानी तरीके से मतगणना करके भाजपा के लोगों को जिला पंचायत में जिताना चाहता है इसकी आशंका पूरे उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत के चुनाव लड़े प्रत्याशियों को बनी हुई है।

No comments