Breaking News

भागवत की कथा जन्म-जन्म के पापों से मुक्ति दिलाती है : संत बालक दास



रतसर (बलिया) क्षेत्र के जनऊपुर गांव स्थित हुलहुल बाबा मन्दिर परिसर में  2 अप्रैल से आयोजित नौ दिवसीय रुद्र महायज्ञ एवं रामकथा के आठवें दिन शुक्रवार को यज्ञाचार्य पं० यज्ञेश उपाध्याय, पं० गनेश तिवारी,पं० ओमशंकर उपाध्याय एवं यज्ञकर्ता अनाम दास जी महाराज के द्वारा  वैदिक मंत्रोच्चार के बीच यज्ञ कुण्ड में  एक लाख 20 हजार एक सौ इकतीस रुद्र की आहुती दी गई। वहीं यज्ञ की ऋचाओं के श्रवण मात्र से लोग पुण्य के भागी बने Iहजारों की संख्या में महिलाए, पुरूष व बच्चे यज्ञ कुण्ड के चारो तरफ परिक्रमा करते नजर आ रहे थे। रुद्र महायज्ञ व मेले में आस्था का जन सैलाब उमड़ता रहा। सान्ध्य बेला में संत बालक दास जी महाराज ने अपने प्रवचन में कहा कि मुक्ति का प्रमुख साधन भगवत भजन है। भागवत की कथा जन्म-जन्म के पापों से मुक्ति दिलाती है इसलिए भागवत की कथा का श्रवण करना इस कलयुग में अमृत समान है। इस अवसर पर पिन्टू सिंह चौहान, सुखेन्द्र सिंह, शिवजी गुप्ता, राधेश्याम पाण्डेय, हृदयानन्द पाण्डेय, राकेश पाण्डेय, मिथिलेश पाण्डेय आदि मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments