Breaking News

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के साथ मनाया गया अंतराल दिवस

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह

गर्भ निरोधक अंतरा इंजेक्शन की सेवा भी की गयी प्रदान

बलिया : जिले में शुक्रवार को ‘प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान’ के साथ ‘अंतराल दिवस’ मनाया गया भी मनाया गया । हर माह की नौ तारीख को मनाए जाने वाले प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत हर गर्भवती की प्रसव पूर्व जांच कर उच्च जोखिम गर्भावस्था (एचआरपी) वाली महिलाओं की पहचान की गयी और उनको उचित सलाह दी गयी । इस दिवस के साथ ही परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिए जनपद की समस्त सीएचसी, यूपीएचसी, पीएचसी, उपकेंद्रों एवं हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर हर शुक्रवार को मनाए जाने वाले अंतराल दिवस का भी आयोजन किया गया । अंतराल दिवस पर महिलाओं को त्रैमासिक गर्भ निरोधक इंजेक्शन ‘अंतरा’ की निःशुल्क सेवा प्रदान की गयी। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान और अंतराल दिवस के मौके पर परिवार नियोजन की अस्थाई विधियों जैसे- अंतरा इंजेक्शन, छाया, माला-डी, माला-एन, आईयूसीडी व पीपीआईयूसीडी आदि को लाभार्थियों को उपलब्ध कराया गया।

परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ० सुधीर कुमार तिवारी ने बताया कि कोरोना काल में परिवार नियोजन को बढ़ावा देने के लिये जिले में आज विशेष अंतराल दिवस मनाया गया। उन्होने बताया कि अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिये एक सुरक्षित विकल्प है। यह इंजेक्शन एक बार लगवाने पर तीन माह तक अनचाहे गर्भ से छुटकारा दिलाता है। महिलाओं के प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिये अंतरा गर्भ निरोधक इंजेक्शन की शुरूआत की गयी। 

आसानी से जुड सकती हैं महिलाएं :-

महिलाएं अंतरा केयरलाइन के टोल फ्री नंबर 1800-103-3044 के जरिए इससे आसानी से जुड़ सकती हैं। टोल फ्री नम्बर डायल करने पर अंतरा से जुड़ी हर समस्या पर उचित सलाह परार्मशदाता से आसानी से मिल जाती है। अंतरा इंजेक्शन लगवाते ही लाभार्थी को अंतरा केयरलाईन नंबर डायल करके पंजीकरण कराना है ताकि उन्हें समय-समय पर जरूरी सलाह मिलती रहे। सुबह 8 बजे से सायं 9 बजे तक इस नंबर पर कॉल की जा सकती है।

परिवार नियोजन के लाभ:-

• माताएं तथा बच्चे अधिक स्वस्थ होंगे, क्योंकि उच्च जोखिम गर्भावस्था की रोकथाम हो जाती है।

• बच्चों की कम संख्या का अर्थ है, प्रत्येक बच्चे के लिए अधिक भोजन, बच्चों के जन्म को टालकर युवा महिलाओं व पुरुषों को अपनी शिक्षा पूरी करने तथा अपना भविष्य सुदृढ़ करने का अवसर व समय मिलता है।

• अगर बच्चे कम हैं तो आप एक दूसरे व बच्चों के साथ अधिक समय गुजार सकते हैं।

क्या कहा लाभार्थियों ने:-

केंद्र पर पहुंचे लाभार्थियों रिंकू देवी (27), सुशीला देवी (28) व अन्य महिलाओं से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि परिवार नियोजन सेवाएं यथा अंतरा, छाया, कॉपर -टी, पीपीआईयूसीडी, आईयूसीडी जनसंख्या स्थिर करने में बहुत ही उपयोगी हैं। इसका उपयोग करने से परिवार सीमित होगा जिससे परिवार खुशहाल और विकास होगा।

No comments