Breaking News

Akhand Bharat

सपा नेता सूर्यभान सिंह की सराहनीय पहल, सीएचसी सोनबरसा को चार सिलिंडर व एक आक्‍सीजन कसंट्रेटर को किया समर्पित




रिपोर्ट : धीरज सिंह

बलिया : अभी के समय में पूरे मानव समाज के जीवन पर खतरा है, कोरोना की दूसरी लहर में हर गांव में भारी संख्‍या में लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। आक्‍सीजन के अभाव में भारी संख्‍या में मरीज दम तोड़ रहे हैं। आक्‍सीजन खोजने पर भी नहीं मिल रहा है। ऐसी परिस्थिति में समाज सेवी बैरिया विधान सभा के सपा नेता सूर्यभान सिंह ने सराहनीय पहल की है। उन्‍होंने सीएचसी सोनबरसा को चार सिलिंडर व एक आक्‍सीजन कसंट्रेटर बुधवार को समर्पित किया। इन संसाधनों को सपा पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री ताड़केस्वर मिश्र के हाथों उन्‍होंने सीएचसी सोनबरसा को पूजा करा कर प्रदान किया। 

अभी के समय में स्‍वयं सूर्यभान सिंह कोरोना पाजिटिव हैं और लखनऊ में अपना उपचार करा रहे हैं। मोबाइल पर बातचीत में उन्‍होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में भारी संख्‍या में शवों को जलते देख मन मर्माहत हो जा रहा है। ऐसे में सभी राजनीतिक और गैर राजनीतिक लोगों को अस्‍पतालों में संसाधन बढ़ाने पर बल देना चाहिए। संसाधन के दम पर ही हम कोरोना को हरा सकते हैं, कोरोना संक्रमितों की जान बचा सकते हैं। ये चार आक्‍सीजन कसंट्रेटर और आक्‍सीजन तैयार करने वाली मशीन बैरिया विधान सभा के लोगों के लिए वरदान सिद्ध होगी। आक्‍सीजन के अभाव में किसी की जान नहीं जाएगी। उन्‍होंने सत्‍ताधारी और विपक्ष के सभी नेताओं से यह अपील किया कि वे एक मंच पर आकर अस्‍पतालों में संसाधन बढ़ाने पर जोर दें। चिकित्‍सक संधासन के बल पर ही काम कर पांएगे। यहीं मानवता है, राजनीति तो होते रहेगी, अभी अपनी जनता की जान की रक्षा करना सबसे अहम है। उन्‍होंने कहा कि सभी लोग मिलकर कुछ बेहतर प्‍लान करें, मेरी जिम्‍मेदारी भी तय करें, मै हर हाल में उनके विश्‍वास पर खरा उतरूंगा।इस मौके चन्द्रभान सिंह,अरूण सिंह,चन्दन सिंह,जिला सचिव शैलेस सिंह,उमेश यादव,जि.प.स.अजय यादव,अजय सिंह,बिरेन्द्र यादव,दिनेश सिंह,रविन्द्र यादव,सुशील यादव,डा विजय यादव व फार्माशिष्ट एन एन शुक्ल आदि मौजूद रहे।


जयप्रकाशनगर के अस्‍पताल को भी एक आक्‍सीजन सिलिंडर


बलिया । सपा नेता सूर्यभान सिंह ने सीएचसी सोनबरसा के अलावा जयप्रकाशनगर के अस्‍पताल को भी एक आक्‍सीजन सिलिंडर समर्पित किया ताकि आपदा की घड़ी में गंभीर मरीजों की जान बचाई जा सके।



No comments