Breaking News

केस हो रहे कम, पर कायम है कंट्रोल रूम की तत्परता



रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलिया: दिन पर दिन कोरोना के घटते मामले बड़ी राहत देने वाले हैं। लेकिन, इसके बावजूद भी इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर की तत्परता तनिक भी कम नहीं हुई है। देखा जाए तो कम केस होने से और अच्छे से केस को ट्रेस एन्ड ट्रीट कराना सुनिश्चित कराया जा रहा है। इस कमांड सेंटर में संचालित सभी सेल के कार्यों पर खुद मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण वर्मा की नजर बनी रहती है और वह प्रतिदिन सुबह-शाम मॉनिटरिंग भी करते हैं। 


सीडीओ के निर्देश पर इस कमांड सेंटर के कोआर्डिनेटर ज्योति प्रकाश द्वारा सभी तैनात कर्मचारियों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने से लेकर उनके कार्य पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। चाहे वह निगरानी सेल के माध्यम से सभी न्याय पंचायत स्तर पर निगरानी समितियों की मानिटरिंग का कार्य हो या कॉल करके सभी पॉजिटिव मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी लेना हो, पूरी तत्परता से सभी कार्य सुनिश्चित कराए जा रहे हैं। पॉजिटिव केस के कम होने से निश्चित रूप से मरीज शिफ्टिंग व ऑक्सीजन सेल का भी काम कुछ हल्का हुआ है, जिसकी वजह से और बेहतर तरीके से जरूरतमंदों तक सुविधाएं पहुंचाई जा रही है। पेशेंट शिफ्टिंग सेल मरीज को जरूरत पड़ने पर एंबुलेंस व बेड की उपलब्धता सुनिश्चित करा रही है। वहीं, होम आइसोलेशन सेल के माध्यम से पॉजिटिव मरीजों को प्रतिदिन कॉल किया जा रहा है और उनको कंट्रोल सेंटर में ही तैनात डॉक्टर के जरिए उचित सलाह दिलाई जा रही है। वैक्सिनेशन सेल के माध्यम से उनको दूसरी डोज के लिए फोन कर प्रेरित किया जा रहा है, जिनको पहली डोज लग चुकी है। हॉस्पिटल एंड पब्लिक ग्रिवांस सेल पेशेंट शिफ्टिंग सेल से समन्वय बनाकर भर्ती मरीजों के हाल की जानकारी ले रही है। ऑक्सीजन सेल के माध्यम से आक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराया जा रहा है। 


*कंट्रोल रूम में बैठकर कोविड अस्पतालों पर रखी जा रही नजर*



कोविड-19 अस्पताल बसंतपुर व फेफना की चिकित्सा व्यवस्था पर भी इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर के जरिए पैनी नजर रखी जा रही है। दरअसल, दोनों अस्पतालों पर सभी वार्ड व अन्य जरूरी स्थलों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जिसकी लाइव फुटेज कमांड सेंटर में लगाए गए बड़े टीवी स्क्रीन पर लगातार देखी जा रही है। यानि, कमाण्ड सेंटर में बैठकर अस्पतालों की चिकित्सा सुविधा पर भी नजर रखी जा रही है। इसके लिए तैनात कर्मियों का क्या काम है कि कहीं भी कोई शिकायत जैसी स्थिति मिलेगी तो उसको तत्काल उच्च अधिकारियों से अवगत कराएंगे।

No comments