Breaking News

माशूका के बुलाते ही शादी में पहुंचा प्रेमी, बिना दुल्हन लौटी बारात

 




लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कन्नौज में जयमाल के स्टेज पर ही दुल्हन ने जेवर का वजन कम होने का आरोप  लगाया और कुछ देर के बाद प्रेमी को शादी में बुलाकर उससे शादी की मांग कर डाली। पूरी रात हाईवोल्टेज ड्रामा चलने के बाद पुलिस दूल्हा, दुल्हन व उसके प्रेमी को कोतवाली लेकर आ गई।

 कन्नौज कोतवाली क्षेत्र के ककलापुर गांव निवासी रामसनेही की बेटी मोनी की बरात गुरुवार रात को सौरिख के फूलनपुर गांव से आई थी। बरात में दूल्हा बनकर बबलू का पुत्र पंकज आया था। जयमाल के लिए वधू मोनी को बुलाया गया तो उसने शादी से इन्कार कर जेवरों का वजन कम होने का आरोप लगाया। इस बीच रात में ही उसने अपने प्रेमी अजीत पुत्र राजाराम निवासी हैयातनगर छिबरामऊ को बुला लिया और शादी उसी से करने की बात कही। दुल्हन की जिद पर रात में ही अजीत के हाथों में मेंहदी लगी और विवाह की रस्में होने लगीं। इस पर पंकज की सूचना पर पहुंची पुलिस ने विवाह रुकवा दिया और पंकज, अजीत व मोनी को कोतवाली ले आई। 


 शुक्रवार सुबह पंचायत शुरू हुई। इस बीच पहुंचे फर्रुखाबाद के फतेहगढ़ थाना क्षेत्र के बरना खुर्द सतौली गांव निवासी बादाम सिंह ने पुलिस को बताया कि अजीत से छह माह पूर्व अपनी बेटी का रिश्ता तय किया था। उन्होंने कहा कि गोदभराई व वरीक्षा भी हो चुकी है। छह घंटे तक पंचायत के बाद बादाम सिंह ने बेटी का रिश्ता करने से इन्कार कर दिया और वरीक्षा व गोदभराई का खर्च मांगा। तभी अजीत ने उन्हें रुपये लौटा दिए। 

 पूरे एक दिन तक चले ड्रामे के बाद मोनी के स्वजन ने पंकज के स्वजन को समझाया और बरात में हुआ खर्च और बिना दुल्हन के लौटा दिया। शाम तक मोनी व अजीत के बीच पंचायत चलती रही, लेकिन विवाह का निर्णय नहीं हो सका था। 


कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि मोनी बालिग है। अपनी पसंद का विवाह कर सकती है। न्यायिक प्रक्रिया पूरी करने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।




डेस्क

No comments