Breaking News

Akhand Bharat

कोरोना की दूसरी लहर ने गांवों में मचाई तबाही, लोगों में सैम्पलिंग कराने की मची होड़


रतसर (बलिया) कोरोना की दूसरी लहर ने गांवों में हाहाकार मचाया हुआ है। मौतों का सिलसिला थम नही रहा है। बुखार, जुकाम व खांसी के प्रकोप से लोगों में दहशत है। स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अन्तर्गत आने वाले कुछ ऐसे भी गांव है जहां कोरोना वायरस के प्रकोप से दर्जनों लोग संक्रमित है। बताते चलेकि स्थानीय सीएचसी के अन्तर्गत परानपुर गांव में दो सप्ताह पूर्व कोरोना संक्रमित मरीज शंकर प्रसाद (50) की सुपर फैसिलिटी सेन्टर बसन्तपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। इसी गांव में तीन दिन पूर्व दो अधेड़ को खांसी, बुखार एवं जुकाम था। जांच कराने के लिए स्थानीय सीएचसी पर शुक्रवार को पहुंचे और उनका सैम्पल लेकर जांच के लिए भेज दिया गया। लेकिन जांच रिपोर्ट आने से पहले ही उन दोनो लोगों का आक्सीजन लेवल कम हो गया और शनिवार को दम तोड़ दिया। ग्रामीणों ने बताया कि विगत एक माह से गांव में दर्जनों लोग कोरोना पाजिटिव मिले है जिन्हे होम आइसोलेसन में रखा गया है। अधिकांश लोग तो ठीक हो गए है लेकिन कुछ लोग अभी भी होम आइसोलेसन में है। रविवार को सीएचसी से स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में पहुंच कर 82 लोगों का आरटीपीसीआर एवं 5 लोगों का एन्टीजन रैपिड टेस्ट लेकर जांच के लिए भेज दिया। सीएचसी प्रभारी डा० राकिफ अख्तर ने बताया की मुख्यमन्त्री के निर्देश पर गांवों में अधिक से अधिक कान्ट्रेक्ट ट्रेसिंग एवं सैम्पलिंग के तहत हमारे यहां तीन आर आर टी टीम का गठन किया गया है जो क्षेत्र में प्रत्येक दिन भ्रमण कर नए संक्रमित मरीजों की ट्रेसिंग एवं सैम्पलिंग का कार्य करती है। साथ ही साथ गांव में बनी निगरानी समिति के माध्यम से बाहर से आए लोगों को चिह्नित कर प्रत्येक दिन मुख्यालय पर सुचना भेजी जाती है तथा गांव में सर्दी, खांसी एवं बुखार वाले व्यक्तियों को चिह्नित कर तत्काल दवा की किट दिया जाता है। सैम्पललिंग करने वाली टीम में एलटी युसूफ अंसारी,इएमटी शैलेश यादव, स्वास्थ्य कार्यकर्ता अवधेश यादव के साथ ही पर्यवेक्षक धनेश पाण्डेय मौजुद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments