Breaking News

Akhand Bharat

बलिया में कोरोना काल में गरीबों का सहारा बना नि:शुल्क सीटी स्कैन

 


- अबतक करीब 2500 लोगों का हो चुका नि:शुल्क सीटी स्कैन

बलिया : जिला अस्पताल में स्थापित नि:शुल्क सिटी स्कैन सेवा मरीजों के लिए कोरोना काल में वरदान साबित हो रही है। जिले में 14 जुलाई 2019 को सीटी स्कैन सेवा प्रदेश सरकार और एनएचएम के सहयोग से पीपीपी मॉडल पर शुरू की गई थी। सेंटर इंचार्ज ज्ञान प्रकाश दुबे ने बताया कि कोरोना काल में लगभग 2500 लोगो का नि:शुल्क सीटी स्कैन अभी तक किया गया है उन्होंने बताया कि मरीज को सिर्फ आधार कार्ड को लेकर जिला अस्पताल के ओपीडी में जाना होता है। और ड़ॉ०की सलाह के अनुसार मरीज का सीटी स्कैन होकर रिपोर्ट छः घंटे में मिल जाती है और आपातकालीन मरीजों को रिपोर्ट दो घंटे में मिल जाती है यह सुविधा सरकार की तरफ से पूरी तरह से नि:शुल्क है।

निजी सेंटरों पर कितना लगता है खर्च:-

सिटी हेड 2500, नेक का 4000, चेस्ट का 4500, एच आर सीटी चेस्ट 5000, होल एब्डामेन 6000, पी एन एस 4000,सिटी लिंब4000, स्पाइन 4000 आदि।

रेडिएशन का खतरा कम:-

ज्ञान प्रकाश दुबे ने बताया कि यहां लगी मशीन 16 स्लाइस की है। जिसे 32 तक कन्वर्ट किया जा सकता है। इसका अधिकतम स्कैन थिकनेस 0.3 एम एम तक कर सकते हैं। भाभा एटोमिक रिसर्च अथवा  एनर्जी रेगुलेरिटी बोर्ड के अनुसार इस मशीन द्वारा रेडिएशन बहुत कम है।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ड़ॉ० बी पी सिंह ने कहा कि जिला अस्पताल में स्थापित नि:शुल्क सीटी स्कैन की व्यवस्था करोना काल में वरदान साबित हो रहाहै। पूर्व में ऐसी कोई व्यवस्था न होने पर मरीजों को बीएचयू भेजा जाता था। लेकिन अब जिले में नि:शुल्क सीटी स्कैन की व्यवस्था सुचारू रूप से चल रही है। ऐसे में यह सुविधा मरीज एवं डॉक्टर दोनों के लिए अच्छी साबित हो रही है।

क्या कहा लाभार्थियों ने:-

सीटी स्कैन कराने आए विष्णु कुमार, निवासी बहेरी ने बताया की हमारे सिर में काफी दर्द हो रहा था। जब हम डॉ०आर एन  उपाध्याय को दिखाने गए तो  उन्होंने बताया कि सीटी स्कैन करा कर रिपोर्ट लेकर मेरे पास आइए फिर मैं देखता हूँ।यह सुविधा जिले मे हो जाने से काफी सहूलियत मिली।

सलोनी, निवासी बांसडीह ने बताया की पहले बाहर या प्राइवेट में सीटी स्कैन के लिए जाना पड़ता था ।अब यह सुविधा जिले में हो जाने से पैसा और समय दोनों की बचत हो रही है।


रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments